Top

BSP प्रदेश अध्यक्ष राजभर समेत 22 पर पॉक्‍सो, वीडियो में हुए चिन्हित

Rishi

RishiBy Rishi

Published on 2 Aug 2016 8:45 PM GMT

BSP प्रदेश अध्यक्ष राजभर समेत 22 पर पॉक्‍सो, वीडियो में हुए चिन्हित
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

लखनऊः मायावती के खिलाफ अशोभनीय टिप्पणी करने के मामले में आरोपी दयाशंकर सिंह की बहन और बेटी के खिलाफ नारे लगाने में बीएसपी के यूपी अध्यक्ष रामअचल राजभर, बीएसपी नेता नौशाद अली और अतर सिंह राव समेत 22 प्रदर्शनकारियों को राजधानी पुलिस ने चिन्हित किया है। इन पर प्रोटेक्शन ऑफ चिल्ड्रेन फॉर सेक्सुअल ऑफेंसेस (पॉक्सो) एक्ट लगाने की तैयारी है।

क्या है पुलिस का कहना?

-एसएसपी मंजिल सैनी के मुताबिक बीएसपी के धरने में 15-16 और लोग भी भाषण दे रहे थे।

-सीडी में इनके भाषणों की गहन पड़ताल की जा रही है।

-बीएसपी महासचिव नसीमुद्दीन सिद्दीकी भी वीडियो में भाषण देते नजर आ रहे हैं।

-जो रिकॉर्डिंग अभी देखी गई है, उसमें वह नारे लगाते नहीं दिख रहे हैं।

-चिन्हित किए गए आरोपियों को पुलिस नोटिस देगी। उससे पहले सबूत दुरुस्त करने का काम जारी है।

स्वाति ने दी है पुलिस को सीडी

-अशोभनीय टिप्पणी मामले में दयाशंकर की पत्नी स्वाति सिंह ने केस दर्ज कराया था।

-उन्होंने बतौर सबूत दो वीडियो सीडी लखनऊ पुलिस को सौंपी है।

-सीओ हजरतगंज अशोक कुमार वर्मा इन दोनों सीडी की रिकॉर्डिंग की जांच कर रहे हैं।

-पुलिस कुछ और भी वीडियो हासिल करने की कोशिश में है।

Rishi

Rishi

आशीष शर्मा ऋषि वेब और न्यूज चैनल के मंझे हुए पत्रकार हैं। आशीष को 13 साल का अनुभव है। ऋषि ने टोटल टीवी से अपनी पत्रकारीय पारी की शुरुआत की। इसके बाद वे साधना टीवी, टीवी 100 जैसे टीवी संस्थानों में रहे। इसके बाद वे न्यूज़ पोर्टल पर्दाफाश, द न्यूज़ में स्टेट हेड के पद पर कार्यरत थे। निर्मल बाबा, राधे मां और गोपाल कांडा पर की गई इनकी स्टोरीज ने काफी चर्चा बटोरी। यूपी में बसपा सरकार के दौरान हुए पैकफेड, ओटी घोटाला को ब्रेक कर चुके हैं। अफ़्रीकी खूनी हीरों से जुडी बड़ी खबर भी आम आदमी के सामने लाए हैं। यूपी की जेलों में चलने वाले माफिया गिरोहों पर की गयी उनकी ख़बर को काफी सराहा गया। कापी एडिटिंग और रिपोर्टिंग में दक्ष ऋषि अपनी विशेष शैली के लिए जाने जाते हैं।

Next Story