×

योगी राज में अखिलेश के बनवाए पथ पर फिर गरजेंगे लड़ाकू विमान !

लखनऊ-आगरा एक्सप्रेस वे पर एक बार फिर लड़ाकू विमान उतरेंगे। उन्नाव के बांगरमऊ इलाके से होकर गुजरने वाले एक्सप्रेस वे पर इसकी तैयारी चल रही है।

tiwarishalini

tiwarishaliniBy tiwarishalini

Published on 12 Oct 2017 7:33 AM GMT

योगी राज में अखिलेश के बनवाए पथ पर फिर गरजेंगे लड़ाकू विमान !
X
अब 24 Oct को लखनऊ-आगरा एक्सप्रेस वे पर फिर गरजेंगे लड़ाकू विमान
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

लखनऊ : लखनऊ-आगरा एक्सप्रेस वे पर एक बार फिर लड़ाकू विमान उतरेंगे। उन्नाव के बांगरमऊ इलाके से होकर गुजरने वाले एक्सप्रेस-वे पर इसकी तैयारी चल रही है। इसी बाबत हाल ही में यूपीडा और एयरफोर्स के अधिकारियों ने सड़क का निरीक्षण किया और कई जगहों पर खामियों को दूर करने के निर्देश दिए। यहां आगामी 24 अक्टूबर को विमानों के लैंडिंग की संभावना जताई जा रही है।

यह भी पढ़ें...लखनऊ-आगरा एक्सप्रेस वे की जांच में खुद उतरे यूपीडा के CEO अवनीश अवस्थी

साल 2017 के विधान सभा चुनावों से पहले अखिलेश यादव के ड्रीम प्रोजेक्ट में से एक आगरा एक्सप्रेस वे को घोटाले का एक्सप्रेस-वे बताने और चुनावी सभा इस बात का ढिंढोरा पीटने वाली बीजेपी जब सत्ता में आई तो योगी सरकार ने एक कमेटी गठित कर इस पूरे मामले की जांच करवाई थी लेकिन सरकार को न ही घोटाला मिला और न ही एक्सप्रेस-वे में खामियां। अब योगी सरकार में पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव की सरकार में बनाए गए एक्सप्रेस-वे में एयरफोर्स लड़ाकू विमान उतारने की योजना बना रहे है। तो ये मौजूदा सरकार के लिए राजनीतिक चोट मानी जा रही है।

बतादें, मौजूदा हालात में पडोसी देशों चीन और पाकिस्तान के साथ बढ़ते तनाव और आए दिन आने वाली प्राकृतिक आपदा को देखते हुए एयरफोर्स 24 अक्टूबर 2017 को आगरा एक्सप्रेस वे पर ट्रांसपोर्ट प्लेन की लैडिंग और टेकऑफ कराएगी है।

यह भी पढ़ें...खुल रही SP सरकार के घोटालों की पोल, लखनऊ-आगरा एक्सप्रेस वे की जमीन खरीद में हेरा फेरी

हाल ही में यूपीडा और एयरफोर्स के अधिकारियों ने एक्सप्रेस वे के कुछ खास हिस्सों का संयुक्त निरीक्षण किया था। निरीक्षण के दौरान उन स्थानों को चिह्नित किया गया जहां ट्रांसपोर्ट और फाइटर प्लेन को उतारा जा सके। उम्मीद जताई जा रही है कि एयरफोर्स हल्के ट्रांसपोर्ट प्लेन एएन-32 और हरक्यूलिस एयरक्राफ्ट को उतार सकता है।

चूंकि एक्सप्रेस वे पर विमानों की लैंडिंग होनी है। यहां विमानों को उतारने का अभ्यास भी किया जाना है। इसको देखते हुए सड़क के आस-पास बैरिकेडिंग लगाई जा रही है ताकि विमानों के अभ्यास के समय सड़क पर आवाजाही को रोका जा सके। अभ्यास के लिए एक्सप्रेस वे को दो दिन के लिए बंद भी किया जा सकता है।

यह भी पढ़ें...नवनीत सहगल के पद से हटते ही खुलने लगी लखनऊ-आगरा एक्सप्रेस-वे के घोटाले की परतें

बता दें कि एक्सप्रेस-वे पर ऐसी व्यवस्था की गई है कि किसी इमरजेंसी के वक्त फाइटर प्लेन यहां से उड़ाए और उतारे जा सकेंगे। साल 2015 मई में पहली बार देश में आईएएफ ने मिराज-2000 फाइटर जेट को मथुरा के यमुना एक्सेप्रेस-वे पर कामयाबी से लैंड कराया था।

tiwarishalini

tiwarishalini

Excellent communication and writing skills on various topics. Presently working as Sub-editor at newstrack.com. Ability to work in team and as well as individual.

Next Story