×

Firozabad News: दस हजार के इनामी आशीष हत्याकांड के दो आरोपी गिरफ्तार

Firozabad News: फिरोजाबाद जिले के शिकोहाबाद के रहट गली में हुए आशीष उर्फ साकाल हत्याकांड के फरार दस हजार के इनामिया दो आरोपी भाइयों को थाना पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया।

Brajesh Rathore
Published on: 1 Dec 2022 12:16 PM GMT
Two accused of ten thousand prize Ashish murder case arrested in Firozabad
X

फिरोजाबाद: दस हजार के इनामी आशीष हत्याकांड के दो आरोपी गिरफ्तार

  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

Firozabad News: फिरोजाबाद (Firozabad) जिले के थाना शिकोहाबाद के रहट गली में 11 दिन पूर्व हुए आशीष उर्फ साकाल हत्याकांड के फरार दस हजार के इनामिया दो आरोपी भाइयों को थाना पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। पुलिस ने उनके कब्जे से हत्या में प्रयुक्त बेलचा को भी बरामद कर लिया है। पकड़े गये दोनों आरोपियों को न्यायालय के आदेश पर जेल भेज दिया।

एसपी ग्रामीण रण विजय सिंह ने घटना का खुलासा करते हुए बताया कि 19 नवंबर को बच्चों के विवाद में एक युवक की सरिया प्रहार कर हत्या कर दी गई थी। जिसमें चार सगे भाइयों को नामजद किया गया था। जिसमें से एक आरोपी गौतम ने न्यायालय में सरेंडर कर दिया था।

वहीं फरार तीन आरोपियों पर वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक ने दस-दस हजार रुपये का इनाम घोषित किया था। पुलिस ने एक दिसंबर को दो इनामियां आरोपी प्रीतम और अंकुश को थाना पुलिस ने उनके घर से गिरफ्तार कर लिया। पुलिस ने उनके कब्जे से हत्या में प्रयुक्त बेलचा बरामद कर लिया है। पकड़े गये दोनों इनामियां हत्यारोपी सगे भाइयों को न्यायालय के आदेश पर जेल भेज दिया।

यह रहा घटना का संक्षिप्त विवरण

एसपी ग्रामीण ने बताया कि मृतक आशीष पुत्र रामप्रकाश निवासी मोहल्ला गली रहट बड़ा बाजार की हत्या के दो आरोपियों को गिरफ्तार किया है। जिन्होंने पूछताछ में बताया कि घटना के दिन गीतम का विवाद पड़ोस में रहने वाले भूरी सिंह के साथ बच्चों के खेलने को लेकर हुआ था। पूछताछ में प्रीतम ने बताया कि भूरी सिंह से कहासुनी होने के बाद उसके बड़े भाई गीतम ने गोली चला दी थी।

इसी दौरान उसने गुस्से में आकर आशीष के सिर में लोहे का बेलचा मार दिया। जिससे उसकी मौके पर ही मौत हो गई थी। बेलचे को घर के अंदर छिपा दिया था। घटना में प्रयुक्त तमंचा गीतम के पास है।

Shashi kant gautam

Shashi kant gautam

Next Story