Top

कठौता झील में मिली लड़का-लड़की की लाश, नहीं हो पाई शिनाख्त

By

Published on 21 May 2016 3:33 PM GMT

कठौता झील में मिली लड़का-लड़की की लाश, नहीं हो पाई शिनाख्त
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

लखनऊ: राजधानी की चिनहट स्थित कठौता झील में शनिवार शाम दो शव उतराते मिले। मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को बाहर निकाला। लाश की शिनाख्त नहीं हो सकी है।

लाशों के मिलने का सिलसिला जारी

-कठौता झील में मिले शवों में एक युवक और दूसरा युवती का है।

-पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज मामले की जांच में जुटी है।

-गौरतलब है कि कठौता झील में बार-बार लाशों के मिलने और लोगों के डूबने के मामले सामने आते रहते हैं।

-ट्रांस गोमती एरिया में पीने के पानी की सप्लाई देने वाले कठौता झील की सुरक्षा पर सवाल उठने लगे हैं।

क्या बताया सीओ ने ?

-सीओ गोमतीनगर सत्यसेन यादव ने बताया कि शव को पीएम के लिए भेज दिया गया है।

-दोनों लाशों के शिनाख्त के प्रयास जारी हैं।

-उन्होंने बताया कि शव पानी की निचली सतह से फूल जाने के कारण ही ऊपर आई है।

-शव दो से तीन दिन पुराना होने की संभावना जताई जा रही है।

-पीएम रिपोर्ट आने के बाद ही मौत के कारणों का पता चल पाएगा।

नहीं मिला कोई सुराग

-सीओ गोमतीनगर ने बताया कि पंचनामा के दौरान किसी भी तरह की चोट के निशान नहीं मिले हैं।

-उन्होंने कहा कि दोनों में क्या रिश्ता है यह शिनाख्त के बाद ही पता चल पाएगा।

-यह भी स्पष्ट नहीं है कि दोनों ने सुसाइड किया है या इनकी हत्या हुई है।

ऑनर किलिंग की भी आशंका

-वहीं मौके पर मौजूद लोगों का मानना था कि युवक-युवती प्रेमी युगल हो सकते हैं।

-पारिवारिक प्रतिष्ठा और मान-सम्मान के कारण परिजनों ने उनकी हत्या कर शव को फेंक दिया हो।

सुरक्षा पर सवाल

-लोगों तक पीने का पानी उपलब्ध करने वाले कठौता झील की सुरक्षा फिर से सवालों के घेरे में है।

-बीते दो सालों में इस झील में आधा दर्जन से ज्यादा लाशें मिल चुकी हैं।

-लेकिन हर बार सिर्फ कड़ी सुरक्षा के दावे किये जाते हैं बाकि नतीजा सिफर ही रहता है।

Next Story