Top

पुलिस की गिरफ्त से हथकड़ी समेत भागे दो कैदी, जब मिले तो नशे में थे

Rishi

RishiBy Rishi

Published on 29 July 2016 9:46 PM GMT

पुलिस की गिरफ्त से हथकड़ी समेत भागे दो कैदी, जब मिले तो नशे में थे
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

झांसीः पुलिस की गिरफ्त से शुक्रवार को दो कैदी भाग निकले। कई घंटे बाद उन्हें फिर पकड़ा जा सका। जिला अस्पताल में दोनों की डॉक्टरी जांच की गई। इसमें दोनों नशे में पाए गए। इस दौरान कैदी पुलिसवालों और मीडिया के लोगों को गाली देते रहे और थूकते रहे। बाद में दोनों को फिर जेल ले जाया गया। दोनों पर गोकशी और हत्या का आरोप है।

क्या है मामला?

-झांसी जेल में रहीस और रिजवान मलिक गोहत्या और हत्या के मामले में कैद हैं।

-दोनों को शुक्रवार को कोर्ट में पेश करने के लिए सिपाही अशोक त्यागी लाया था।

-रहीस और रिजवान ने सिपाही को पीटा और हथकड़ी समेत भाग गए।

-नवाबाद थाने की पुलिस ने बड़ी मुश्किल से दोनों को गिरफ्तार किया।

पकड़े जाने पर करने लगे बदसलूकी

-दोनों कैदियों को खुशीपुरा से गिरफ्तार किया गया।

-जिला अस्पताल में डॉक्टरी के दौरान उन्हें नशा किए हुए पाया गया।

-इस दौरान रहीस और रिजवान पुलिसवालों को गाली देते रहे, मीडिया के लोगों पर थूका भी।

-अभी ये पता नहीं चल सका है कि दोनों ने फरार होने के बाद नशा किया या जेल में ही शराब पी थी।

Rishi

Rishi

आशीष शर्मा ऋषि वेब और न्यूज चैनल के मंझे हुए पत्रकार हैं। आशीष को 13 साल का अनुभव है। ऋषि ने टोटल टीवी से अपनी पत्रकारीय पारी की शुरुआत की। इसके बाद वे साधना टीवी, टीवी 100 जैसे टीवी संस्थानों में रहे। इसके बाद वे न्यूज़ पोर्टल पर्दाफाश, द न्यूज़ में स्टेट हेड के पद पर कार्यरत थे। निर्मल बाबा, राधे मां और गोपाल कांडा पर की गई इनकी स्टोरीज ने काफी चर्चा बटोरी। यूपी में बसपा सरकार के दौरान हुए पैकफेड, ओटी घोटाला को ब्रेक कर चुके हैं। अफ़्रीकी खूनी हीरों से जुडी बड़ी खबर भी आम आदमी के सामने लाए हैं। यूपी की जेलों में चलने वाले माफिया गिरोहों पर की गयी उनकी ख़बर को काफी सराहा गया। कापी एडिटिंग और रिपोर्टिंग में दक्ष ऋषि अपनी विशेष शैली के लिए जाने जाते हैं।

Next Story