×

यूपी विधानमंडल सत्र: पक्ष—विपक्ष ने अटल को दी श्रद्धांजलि, 27 तक स्थगित

Aditya Mishra

Aditya MishraBy Aditya Mishra

Published on 23 Aug 2018 7:31 AM GMT

यूपी विधानमंडल सत्र: पक्ष—विपक्ष ने अटल को दी श्रद्धांजलि, 27 तक स्थगित
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

लखनऊ: विधानसभा सत्र का पहला दिन काफी हंगामेदार रहा। हंगामे को देखते हुए विधानसभा की कार्यवाही बीच में ही स्थगित करनी पड़ गई। अब 27 अगस्त को दिन में 11 बजे से फिर से सदन चलेगा।

इससे पूर्व सदन में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अटल बिहारी बाजपेयी के निधन पर आज शोक प्रस्ताव पेश किया था। जिस पर विधानसभा अध्यक्ष, बीजेपी और बाकी राजनीतिक दलों से जुड़े नेताओं ने बारी –बारी से अपने विचार रखे।

अटल जी में सभी को साथ लेकर चलने की कला थी- योगी आदित्यनाथ

सीएम योगी आदित्यनाथ ने अटल बिहारी वाजपेयी के निधन पर उन्हें याद करते हुए शोक प्रस्ताव पेश किया। योगी ने कहा कि अटल जी में सभी को साथ लेकर चलने की कला थी। उनके निधन से देश को काफी क्षति हुई है।

अटल बिहारी जी हमेशा सभी के रहे- हृदय नारायण दीक्षित

विधानसभा अध्यक्ष हृदय नारायण दीक्षित ने अटल बिहारी वाजपेई जी के निधन पर सदन को सम्बोधित करते हुए कहा कि अटल जी के भाषण को सुनकर हम लोग अपने शब्दकोशों को खाली-खाली पाया करते थे। वह हमेशा सभी के रहे और सभी को ऊपर उठाने का प्रयास किया।

उन्होंने अपनी लाइन में भी कहा है कि हे प्रभु मुझे इतनी ऊंचाई मत देना की ग़ौरो को गले न लगा सकू। विपक्ष के रूप में भी अटल बिहारी बाजपेई जी के तौर-तरीकों का अनुसरण करना जरूरी है। हम सभी ने सदन में देखा और पाया वह कटु वाणी का इस्तेमाल कभी नहीं करते थे। वह पक्ष और विपक्ष सभी कि अच्छे कामों की हमेशा सराहना करते थे।

ये भी पढ़ें...यूपी की हर पवित्र नदी में प्रवाहित होंगी ‘अटल’ अस्थियां, इन जगहों को संवारना होगा प्राथमिकता

वाजपेयी देश के महान नेता थे- रामगोविंद चौधरी

नेता प्रतिपक्ष रामगोविंद चौधरी ने अटल जी को याद करते हुए उन्हें देश का महान नेता बताया। चौधरी ने कहा कि अटल बिहारी वाजपेई ने हमेशा शांति का संदेश दिया। मुख्यमंत्री जी की बातों से मैं अपने आप को संबंध करता हूं। वाजपेयी जी ने कई पत्र पत्रिकाओं का संपादन किया था। उनके निधन से देश ने एक महान सपूत खो दिया।

वाजपेयी जी का निधन देश के लिए बड़ी क्षति - लालाजी वर्मा

बसपा के विधानमंडल दल के नेता लालजी वर्मा ने अटल बिहारी वाजपेयी के निधन के शोक प्रस्ताव पर अपने विचार रखते हुए कहा कि पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी जी ने भाजपा में रहते हुए भी कई विभिन्न विचारधाराओं वाली पार्टियों के साथ मिलकर सरकार चलाई। साथ देश हित में कई मजबूत फैसले भी लिये। वाजपेयी जी का निधन देश के लिए बड़ी क्षति है।

जीवन को ऊर्जा से भरने का काम करती थी वाजपेयी की रचनायें- लल्लू

कांग्रेस विधानमंडल दल के नेता अजय कुमार लल्लू ने पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के निधन के शोक प्रस्ताव पर अपने विचार रखते हुए कहा कि वाजपेयी जी पेशे से पत्रकार थे। लेकिन एक बड़े रचनाकार भी थे उनकी रचनायें जीवन को ऊर्जा से भरने का काम करती है।

ये भी पढ़ें...यूपी के इस शहर में सहबाला बनकर आए थे ‘अटल’, देखिए पुराने फोटोज…

वाजेपयी ने राजनीति को दिया नया आयाम- राजभर

ओमप्रकाश राजभर ने शोक प्रस्ताव पर अपने विचार रखते हुए कहा कि भारतीय समाज पार्टी और मैं अपनी तरफ अटल बिहारी वाजपेयी को श्रद्धांजलि देता हूं। नेता प्रतिपक्ष के रूप में उनकों जब देखा तो हम लोगों ने राजनीति को एक नया आयाम देते हुए पाया।

Aditya Mishra

Aditya Mishra

Next Story