×

सीएम योगी ने की गोरखपुर में घर-घर 'दस्तक' अभियान की शुरुआत

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रदेश में जापानी इंसेफेलाइटिस व अन्य संचारी रोगों से लड़ने व लोगों को जागरूक कर के लिये घर-घर 'दस्तक' अभियान की शुरुआत की है। इस अभियान की शुरुआत सीएम योगी ने गोरखनाथ मंदिर से किया।

Dharmendra kumar

Dharmendra kumarBy Dharmendra kumar

Published on 10 Feb 2019 8:50 AM GMT

सीएम योगी ने की गोरखपुर में घर-घर दस्तक अभियान की शुरुआत
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

गोरखपुर: उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रदेश में जापानी इंसेफेलाइटिस व अन्य संचारी रोगों से लड़ने व लोगों को जागरूक कर के लिये घर-घर 'दस्तक' अभियान की शुरुआत की है। इस अभियान की शुरुआत सीएम योगी ने गोरखनाथ मंदिर से किया। सीएम योगी ने दस्तक अभियान की शुरुआत करते हुए 33 गाड़ियों को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। तिरंगे के रंग के गुब्बारे को उड़ाकर अभियान की शुरुआत की गई।

इस मौके पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि पिछले साल के तीन दस्तक अभियानों की सफलता को देखते हुए इस साल के पहले 'दस्तक अभियान' को चलाया जा रहा है, ये अभियान 10 से 28 फरवरी तक चलेगा।

यह भी पढ़ें.....प्रियंका के लखनऊ आगमन पर अमेठी में तैयारी तेज, कांग्रेस बोली, 2019 में बनेगी हमारी सरकार

उन्होंने कहा कि दस्तक अभियान जिले के साथ-साथ गोरखपुर और बस्ती मण्डल के सात जिलों मे चलाया जाएगा। साथ ही एमडीए अर्थात मास ड्रग एडमिनिस्ट्रेशन के तहत स्वास्थ्य विभाग फाइलेरिया से निपटने की पूरी तैयारी कर चुका है। जिले में 40 लाख से अधिक लोगों को 10 से 14 फरवरी तक घर-घर जाकर फाइलेरिया की दवा खिलायी जाएगी।

यह भी पढ़ें.....जहरीली शराब पर CM योगी ने जताया साजिश का शक, अखिलेश ने खोला मोर्चा

इस पांच दिवसीय अभियान के लिए 3786 टीमे बनायी गयीं है, इसके अलावा 25 फरवरी से 8 मार्च तक जे ई टीकाकरण, 10 मार्च से पोलियो की दवा पिलाने का अभीयान शुरू होगा। जो 18 मार्च तक चलेगा, स्वछता के लिये रोगों से बचाव के लिए जेई के रोकथाम के लिए 15 मई से 15 जून तक व 1 जुलाई से लेकर 31 जुलाई तक टीकाकरण अभियान चलाया जाएगा, गत वर्ष भी अभियान चलाया गया था जिसका परिणाम बेहतर रहा है।

यह भी पढ़ें.....यूपी-उत्तराखंड में जहरीली शराब से 100 से ज्यादा की मौत, 175 आरोपी गिरफ्तार

इस अवसर पर स्वास्थ्य सचिव प्रशांत द्विवेदी, कमिश्नर अमित कुमार गुप्ता, सीएमओ डॉ श्रीकांत तिवारी सहित सभी लोग मौजूद थे और अब इसके जरिये इस बीमारी पर इस बार पूरी तरह से रोक थम करने के लिए रैली को रवाना कर दिया गया है।

Dharmendra kumar

Dharmendra kumar

Next Story