सीएम योगी का दशहरा: पांव पखार किया कन्या पूजन, विजय शोभायात्रा में होंगे शामिल

गोरखनाथ मंदिर में कन्या एवं बटुक भैरव का पूजन हर बार की तरह मंदिर के प्रथम तल पर शुरू हुआ। कन्या एवं बटुक भैरव का पूजन, दक्षिणा एवं उपहार देने के बाद स्वयं योगी आदित्यनाथ ने कन्याओं को श्रद्धाभाव से भोजन परोसा।

UP CM Yogi Adityanath Performs Kanya Pujan will attend Gorakhpur Vijaya Shobha Yatra

सीएम ने किया कन्या पूजन (Photo Twitter)

गोरखपुर। शारदीय नवरात्र में 9 दिन का व्रत पूरा होने के बाद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने रविवार की सुबह गोरखनाथ मंदिर में कन्या एवं बटुक भैरव पूजन किया। मुख्यमंत्री ने 9 कन्याओं का पांव पखार कर उनका आशीर्वाद लिया।

मुख्यमंत्री योगी गोरखपुर में

रविवार को मुख्यमंत्री नाथ परम्परा की पारम्परिक विजयदशमी विजय शोभायात्रा में शामिल होंगे। मानसरोवर मंदिर में देव विग्रहों का पूजन एवं अभिषेक के बाद मानसरोवर रामलीला के मंच में राजा रामचंद्र के राजतिलक समारोह में शामिल होकर श्रद्धालुओं को संबोधित करेंगे।

सीएम ने किया कन्या पूजन, मां भगवती की अराधना

इसके पहले रविवार की सुबह आठ बजे गोरखनाथ मंदिर में कन्या एवं बटुक भैरव का पूजन हर बार की तरह मंदिर के प्रथम तल पर शुरू हुआ। कन्या एवं बटुक भैरव का पूजन, दक्षिणा एवं उपहार देने के बाद स्वयं योगी आदित्यनाथ ने कन्याओं को श्रद्धाभाव से भोजन परोसा।

इसके पूर्व मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ रविवार की सुबह मठ के प्रथम तल स्थित शक्ति मंदिर में मॉ भगवती की अराधना कर भोग लगाया। यहां दुर्गा सप्तशति का पाठ भी हुआ। उसके बाद सभी देव विग्रहों का पूजन एवं समाधि पर आशीर्वाद लिया। कन्या पूजन समारोह को लेकर अयोध्या, वाराणसी, दिल्ली समेत कई स्थानों से संत महात्मा मंदिर में प्रवास कर रहे हैं।

तिलकोत्सव में मिलेगा गोरक्षपीठाधीश्वर का आशीर्वाद

गोरखनाथ मंदिर के तिलक हाल में परम्परागत रूप से विजयादशमी पर आयोजित होने वाला तिलकोत्सव कार्यक्रम सम्पन्न होगा। इस कार्यक्रम में मंदिर के योगी, महंत, पुजारी, पुरोहित एवं चुनिंदा श्रद्धालु शामिल होंगे। कोविड 19 संक्रमण के कारण इस कार्यक्रम में इस बार काफी कम लोग शामिल हो पाएंगे। यह कार्यक्रम 1 बजे से 3 बजे तक आयोजित होगा।

ये भी पढ़ेंः विजयादशमी में योगी का ऐसा रूप: CM नहीं होंगे दण्डाधिकारी, जानें ये परम्परा…

4 बजे निकलेगी विजयादशमी की विजय शोभायात्रा

तिलकोत्सव के पश्चात अपराह्न 4 बजे गोरक्षपीठ परंपरागत विजय शोभा यात्रा भी निकलेगी। श्रीनाथ जी का आशीर्वाद लेने के बाद मुख्यमंत्री वाहन में सवार होकर मानसरोवर रामलीला मैदान पहुंचेंगे। सबसे पहले श्रीराम सरोवर मंदिर में रामदरबार, भगवान शंकर दरबार एवं राधा कृष्ण मंदिर में पूजन कर अभिषेक करेंगे। उसके बाद मानसरोवर रामलीला मैदान पहुंचेंगे।

श्रद्धालुओं को संबोधित करेंगे सीएम योगी

मर्यादा पुरुषोत्तम राजाराम के राजतिलक में श्रद्धालुओं को संबोधित करने के बाद सीएम गोरखनाथ मंदिर लौट आएंगे। मंदिर में इस दौरान भण्डारा भी आयोजित होगा। शोभायात्रा में ज्यादा भीड़ नहीं होगी। इसलिए सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए हैं। गोरखनाथ मंदिर के मीडिया प्रभारी विनय गौतम ने बताया कि सभी कार्यक्रमों में सीमित संख्या में ही लोगों को शामिल होने की अनुमति होगी। कार्यक्रमों के सजीव प्रसारण किया जाएगा ताकि लोग मंदिर के फेसबुक पेज और यू-ट्यूब चैनल पर सभी कार्यक्रमों का सीधा प्रसारण देख सके।

शोभायात्रा का मुस्लिम समाज के लोग करेंगे स्वागत

परम्परागत रूप से गोरक्षपीठाधीश्वर की विजयादशमी पर निकलने वाली विजयशोभायात्रा का चौधरी कैफुल वरा की अगुवाई में मुस्लिम समाज और बुनकर समाज की ओर से स्वागत किया जाएगा। चौधरी परिवार को शनिवार को शोभायात्रा के स्वागत कार्यक्रम की तैयारियों में जुटा रहा। चौधरी जैद ने बताया कि इस दौरान सोशल डिस्टेसिंग का ध्यान रखा जाएगा।

गोरखपुर से पूर्णिमा श्रीवास्तव

दोस्तों देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App