×

UP: बुलंदशहर के पीड़ित परिवार से मिले अखिलेश यादव, डीएम-एसपी पर हत्या का केस दर्ज करने की मांग

UP Demolition Drive: सपा मुखिया अखिलेश यादव ने आज बुलंदशहर के पीड़ित परिवार से मुलाकात की और परिजनों को हर संभव मदद का भरोसा दिया।

Rahul Singh Rajpoot
Updated on: 2 Jun 2022 12:31 PM GMT
UP: बुलंदशहर के पीड़ित परिवार से मिले अखिलेश यादव, डीएम-एसपी पर हत्या का केस दर्ज करने की मांग
X

बुलंदशहर के पीड़ित परिवार से मिले अखिलेश यादव (फोटो साभार- ट्विटर)

  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

UP News: समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party) के अध्यक्ष अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) ने आज पार्टी कार्यालय पर बुलंदशहर (Bulandshahr) में प्रशासन द्वारा जेसीबी (JCB) से घर गिराए जाने के दौरान उसमें घायल हुए रोहताश लोधी (Rohtash Lodhi) के परिजनों से मुलाकात की और उनकी हर संभव मदद का भरोसा दिया। गौर हो ध्वस्तीकरण (UP Demolition Drive) की इस कार्रवाई में घायल रोहताश लोधी की इलाज के दौरान मौत हो गई थी। उस वक्त भी अखिलेश यादव ने ट्वीट (Akhilesh Yadav Twitter) कर सरकार को घेरा था। आज जब वह पीड़ित परिवार से मिले तो डीएम, एसपी पर हत्या का केस दर्ज करने और रोहताश के परिवार को एक करोड़ रुपया मुआवजा देने की मांग की है।

सपा ने ट्वीट कर सरकार को घेरा

समाजवादी पार्टी ने अपने आधिकारिक ट्वीटर हैंडल (Samajwadi Party Twitter) से पार्टी प्रमुख की पीड़ित परिवार से मुलाकात की तस्वीर को शेयर कर लिखा, यूपी में CM का बुलडोजर कमजोरों का आशियाना तोड़ने के साथ उनकी जान भी ले रहा है। बुलंदशहर में प्रशासन द्वारा JCB से घर ध्वस्तीकरण के दौरान अंदर सो रहे श्री रोहताश लोधी के घायल होने के बाद उपचार उपरांत मृत्यु, दुखद! DM, SP पर हो 302 का केस, मृतक के परिवार को मिले ₹ 1 करोड़ मुआवजा।

क्या है पूरी घटना?

बता दें बीते 2 मई 2022 को बुलंदशहर में अतिक्रमण के खिलाफ कार्रवाई की जा रही थी। उसके लिए बुलडोजर कोतवाली इलाके के घरों को तोड़ रही थी। इसी दौरान रोहतास लोधी नाम का एक युवक मलबे में दबकर बुरी तरह से घायल हो गया। अस्पताल में भर्ती करवाया गया मगर इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई थी। युवक की मौत के बाद परिवार ने ठेकेदार और प्रशासन पर आरोप लगाए थे।

परिवार ने लगाए थे आरोप?

मृतक रोहतास के परिवार ने आरोप लगाया था कि प्रशासन ने बिना कोई नोटिस दिए ही आवास विकास सेक्टर-2 इलाके में अतिक्रमण हटाओ अभियान (Encroachment Removal Campaign) चलाया। इस दौरान कॉलोनी के करीब एक दर्जन घरों को तोड़ा गया। जब बुलडोजर रोहतास के घर पर पहुंचा तो रोहतास ने अपने घर को बचाने का प्रयास किया। इसी दौरान बुलडोजर (Bulldozer) ने उन्हें टक्कर मार दी जिससे मलबे की नीचे यह दबकर गंभीर रूप से घायल हो गए जिसके बाद उनकी मौत हो गई।

दोस्तों देश और दुनिया की खबरों को तेजी से जानने के लिए बने रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलो करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

Shreya

Shreya

Next Story