×

UP Election 2022: चुनावों से पहले भाजपा को लगी बुरी नजर, इस्तीफों की कड़ी में BJP विधायक विनय शाक्य का भी नाम

UP Election 2022: भाजपा को इस्तीफों की कड़ी में फिर से जोर का झटका लगा है। ताजा जानकारी के अनुसार, यूपी के औरेया के बिधूना में भाजपा विधायक विनय शाक्य ने भी इस्तीफा दे दिया है।

Shreedhar Agnihotri
Published on 13 Jan 2022 8:23 AM GMT
Vinay Shakya
X

विनय शाक्य (फोटो-सोशल मीडिया)

  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

UP Election 2022: उत्तर प्रदेश में जैसे-जैसे आगामी विधानसभा चुनावों की तारीख नजदीक आती जा रही है, वैसे-वैसे भारतीय जनता पार्टी की मुश्किलें हर दिन बढ़ती जा रही हैं। ऐसे में अब भाजपा को इस्तीफों की कड़ी में फिर से जोर का झटका लगा है। ताजा जानकारी के अनुसार, यूपी के औरेया के बिधूना में भाजपा विधायक विनय शाक्य ने भी इस्तीफा दे दिया है। अब इस्तीफा यूपी भाजपा अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह को भेजते हुए कहा है कि भाजपा सरकार द्वारा 5 वर्ष के कार्यकाल में दलित, पिछड़ों और अल्पसंख्यक समुदाय के नेताओं व जनप्रतिनिधियों को कोई तवज्जो नहीं दी गई और ना उन्हें उचित सम्मान दिया गया।

जानकारी देते हुए बता दें, जब से यूपी में विधान सभा चुनावों की तारीख का एलान हुआ है, तब से ही भाजपा से इस्तीफों की कड़ी की शुरूआत हो गई है। ये आठवें विधायक है जिन्होंने बीजेपी का साथ छोड़ दिया है।

अभी तक इतनों किया भाजपा से बाय-बाय

उत्तर प्रदेश में योगी सरकार के विधायकों की इस्तीफों के श्रृंखला में आज एक और विधायक विनयशाक्य ने इस्तीफा दे दिया है। उन्हें स्वामी प्रसाद गुट का विधायक कहा जा रहा है। इनके अलावा आयुष राज्य मंत्री धर्म सिंह सैनी के भी इस्तीफे की चर्चा हैं। हांलाकि इसकी पुष्टि अब तक नहीं हुई है।

पिछडी जाति से जुडे विनय शाक्य ने भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्रदेव सिंह को भेजे पत्र में कहा है कि पूरे पांच वर्ष के कार्यकाल में दलितों पिछडों और उपेक्षितों की जमकर उपेक्षा हुई हैं। इसके अलावा उन्होंने बेरोजगारों किसानों नौजवानों और छोटे व्यापारियों की भी उपेक्षा का आरोप लगाया है। उन्होंने स्वामी प्रसाद मौर्य की आवाज को अपनी आवाज बताते हुए उनका समर्थन किया है।

दो दिन पहले ही कैबिनेट मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्य के साथ बृजेश प्रजापति रोशन लाल वर्मा व भगवती सागर पार्टी से इस्तीफा दे चुके हैं। उनके बाद ममतेश शाक्य विनय शाक्य धर्मेन्द शाक्य और नीरज मौर्य के भी पार्टी छोड़ने की चर्चा चल रही थी। आज सुबह ही मुकेश वर्मा भी पार्टी छोड़ चुके हैं।

इससे पहले अब तक बदायूं जिले के बिल्सी से भाजपा विधायक राधा कृष्ण शर्मा राकेश राठौर माधुरी वर्मा जय चौबे के अलावा यूपी की बलिया के चिलकलहर विधानसभा से भाजपा के पूर्व विधायक राम इकबाल सिंह समाजवादी पार्टी (सपा) का दामन थाम चुके हैं।

धर्म सिंह सैनी ने दो दिन पहले एक वीडियो जारी कर अपने इस्तीफे की खबर का खंडन किया था, लेकिन आज एक बार फिर राजनीतिक गलियारों में उनके इस्तीफे की चर्चा तेज हो गयी है।

Vidushi Mishra

Vidushi Mishra

Next Story