×

UP Election 2022: कैराना पहुंचे केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह, डोर-टू-डोर कैंपेन कर भाजपा के लिए मांगे वोट

UP Election 2022: इसी के मद्देनजर कैराना पर भाजपा का अधिक ध्यान देना आवश्यक है। केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने अपने कैराना दौरे के पर विधानसभा क्ष्रेत्र में लोग के घर-घर जाकर प्रचार यानी डोर-टू-डोर कैंपेन किया।

Pankaj Prajapati
Published on 22 Jan 2022 10:58 AM GMT
UP Election
X

अमित शाह की तस्वीर (फोटो:सोशल मीडिया)

  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

UP Election 2022: केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह (Amit Shah) शनिवार को उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव के मद्देनजर अपने दौरे के अनुरूप प्रदेश के कैराना पहुंचे। कैराना के साथ ही केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह पश्चिमी उत्तर प्रदेश के अन्य जिलों और विधानसभा सीटों पर अपना दौरा करेंगे। पश्चिमी उत्तर प्रदेश भाजपा के लिए बहुत ही अहम है क्योंकि बीते 2017 उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में भाजपा ने पश्चिमी उत्तर प्रदेश की कुल 108 सीटों में से 83 सीटों पर जीत हासिल की थी, लेकिन कैराना विधानसभा सीट अभी भी भाजपा के पाले में नहीं है।

अमित शाह की तस्वीर

इसी के मद्देनजर कैराना पर भाजपा का अधिक ध्यान देना आवश्यक है। केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने अपने कैराना दौरे के पर विधानसभा क्ष्रेत्र में लोग के घर-घर जाकर प्रचार यानी डोर-टू-डोर कैंपेन किया।

कैराना में अपने डोर-टू-डोर कैंपेन के दौरान गृह मंत्री अमित शाह ने भाजपा उम्मीदवार मृगांका सिंह और पार्टी की जीत सुनिश्चित करने को लेकर लोगों से अपील की। साथ ही अमित शाह ने मतदाताओं को भाजपा का पैम्पलेट, घोषणा पत्र बांटने के साथ ही बीते समय में उनकी सरकार द्वारा किए गए कामों को जनता से दोहराया।

नहीं हो रहा कोविड प्रोटोकॉल का पालन

इस डोर-टू-डोर कैंपेन के दौरान अमित शाह के साथ एक ठीक-ठाक मात्रा में लोगों की भीड़ भी देखी गई जिसमें काफी लोग ऐसे भी दिखे जो कोरोना नियमों की धज्जियां उड़ाते नजर। इस दौरान इन लोगों ने ना तो मास्क पहन रखा है और ना ही शारीरिक दूरी के नियमों का पालन कर रहे हैं। मीडिया कर्मियों को अमित शाह से काफी दूर रखा गया था, जिससे की कोविड प्रोटोकॉल का पालन हो सके लेकिन साथ ही इसी दौरान उन्हीं के समर्थक कोविड प्रोटोकॉल का पालन करते नहीं दिखे।

गृहमंत्री अमित शाह की तस्वीर

भारतीय जनता पार्टी ने 2022 विधानसभा चुनाव के अनुरूप कैराना विधानसभा सीट से कैराना के ही पूर्व विधायक दिवंगत हुकुम सिंह की बेटी मृगांका सिंह को अपना उम्मीदवार चुना है। कैराना विधानसभा सीट में मतदान पहले चरण यानी 10 फरवरी को होने हैं, जिसमें अब कुल 20 दिन से भी कम का समय बचा है।

दरअसल आपको बता दें मामला जनपद शामली के कैराना का है जहां पर आज गृहमंत्री अमित शाह कैराना पहुंचे जिसके बाद उन्होंने हाथ में पंपलेट लेकर टीचर कॉलोनी से जनसंपर्क शुरू किया जहां पर उन्होंने टीचर कॉलोनी से होते हुए चौक बाजार पहुंचे वह उसके बाद साधु से जो प्लान करके वापस आए थे उनके परिवार से मुलाकात की और सुरक्षा का भरोसा जताया।

अमित शाह को देख सैकड़ों की संख्या में बच्चे सड़कों पर आ गए थे और मोदी जिंदाबाद के नारे लगा रहे थे अमित शाह के साथ शामली जनपद के तमाम बीजेपी के नेता जिसमें राज्य पंचायत मंत्री भूपेंद्र सिंह वह कैराना सांसद प्रदीप चौधरी कैराना बीजेपी प्रत्याशी मृगांका सिंह वह बीजेपी के गन्ना मंत्री सुरेश राणा शामली विधानसभा से विधायक तेजेंद्र पाल व क्षेत्रीय अध्यक्ष मोहित बेनीवाल तमाम बीजेपी के बड़े नेता अमित शाह के साथ मौजूद थे।

जिन्होंने अमित शाह के साथ कैराना की जनता को जनसंपर्क किया और पंपलेट बाटी सिंह अमित शाह ने छोटे-छोटे बच्चों से भी मुलाकात की और उनको पंपलेट बाटी और अपील की कि ज्यादा से ज्यादा बीजेपी को वोट देकर जिताए वही घर घर जाकर अमित शाह ने जनसंपर्क किया कैराना के टीचर कॉलोनी से होकर चौक बाजार व कैराना से पलायन कर वापस आए साधु स्वीट्स वालों से भी मुलाकात की और उनको परिवार से मुलाकात की गृह मंत्री अमित शाह ने जनसंपर्क के दौरान महिला पूनम से जब बात की तो उन्होंने बताया कि उन्होंने कहा कि 10 तारीख को वोट देना और मर कांता सिंह को जिताना कैराना का माहौल इस वक्त बहुत अच्छा है।

अब कराना का माहौल बहुत अच्छा है वही कैराना की एक महिला का कहना है कि अमित शाह जी ने बोला है कि 10 तारीख को कमल के फूल पर मोहर लगाना और कमल के फूल को जिताना और हमें बहुत अच्छा लगा कैराना का माहौल इन 5 सालों में बहुत अच्छा बन गया कैराना में अमित शाह के आने से पूरा चुनाव उलट-पुलट हो गया है चराना का जो समीकरण है वह अब बदलती गया है क्योंकि अमित शाह के कैराना आने से लोगों के मंकी जो भावनाएं हैं वह बीजेपी के प्रति डाल दी गई है।

क्योंकि अमित शाह के आने के बाद कैराना की जो जनता है उसमें काफी उत्साह भी दिखा है महिलाओं से जादू अमित शाह जी ने बात की तो महिलाएं काफी खुश नजर आए युवाओं में जोश दिखा और मोदी और योगी जिंदाबाद के नारे भी जनसंपर्क के दौरान लगने लगे कैराना में पलायन कर वापस आने वाले लोगों से बात की उसके बाद उन्होंने पश्चिमी उत्तर प्रदेश के बागपत जिले व मुजफ्फरनगर जिले के तमाम अधिकारियों के साथ बैठक की जिसमें उन्होंने तीनों शामली विधानसभा की तीनों सीटों पर जीतने का बड़ा दावा किया और अधिकारियों से मुलाकात भी की

व्यापार मंडल के अध्यक्ष विपुल जैन का कहना है कि डोर टू डोर अपनी भारतीय जनता पार्टी के अपने कार्यक्रम को अपने शुरुआती आज उन्होंने टीचर कॉलोनी में चौक बाजारअंदर मार्केट में मार्केट में अंदर बाजार में चौक बाजार से लेकर साधु हलवाई की दुकान तक वह अपने लिए जनता पार्टी के लिए वोट अपील की मैं तो केवल आपसे एक अपील करना चाहता हूं पार्टी से सब लोग आते हैं।

लेकिन कैराना के व्यापार की और कुछ नहीं सोचा गया व्यापारियों के लिए सरकार को कुछ घोषणा आवश्यक करनी चाहिए प्रदेश में मानसिकता चेंज कर ही दी कैराना का प्लान का मुद्दा कोई जातिगत मुद्दा नहीं था ना ही हिंदू मुस्लिम का मुद्दा था कैराना के अंदर बदमाशी तो थी उन्होंने हमारे तीन व्यापारियों की गोली मारकर हत्या कर दी थी चंद्र बदमाशों का ऐसा आतंक था।

उन्होंने एक कैराना के अंदर दहशत फैला रखी थी बहुत सारे लोगों से रंगदारी भी ली बहुत लोग ऐसे भी थे जिन्होंने डर की वजह से उन्हें पैसे भी दे दिए थे लेकिन सामने नहीं आए दहशत के डर से लोग प्लान करके कराने से गए हैं जिनके यहां चिट्ठी आई सरकार सुरक्षा नहीं दे रही तो आदमी क्या करेगा दो जिसका वोटर है मैं तो उसको ही वोट करेगा इसके बारे में क्या कहा जाए उसे एक बात तो है कहीं ना कहीं कहीं ना कहीं इस बात को तो मन स्वीकार करना पड़ेगा।

आपको कुछ तो है और कुछ कर दिया गया ऐसी परिस्थितियां भी नहीं थी कि जैसी परिस्थितियां बना दी गई अगर आदमी अपनी जबान पर काबू रखें नाहिद हसन ने चाय किया कुछ ना हो लेकिन अपनी जबान से जो 12 बयान दिए हैं उसके लिए उनको हाईलाइट किया गया है उनका आम व्यवहार किसी को गलत नहीं था लेकिन उनकी एक जवान के कारण सुबह हाईलाइट हो गए उस हाईलाइट का दूसरा तो फायदा उठाता ही है !

Divyanshu Rao

Divyanshu Rao

Next Story