ऐसा क्या होने जा रहा यूपी में? योगी सरकार ने पुलिस की छुट्टियां की रद्द

शासन की तरफ से आदेश जारी कर पुलिस प्रशासन के सभी अफसरों की छुट्टियां 30 नवंबर तक के लिए कैंसिल कर दी गईं हैं। उन्हें लखनऊ में रहने के लिए कहा गया हैं।

लखनऊ: देश के सर्वोच्च न्यायालय (सुप्रीम कोर्ट) में अयोध्या जमीन विवाद मामले की सुनवाई का अंतिम दौर चल रहा है। 16 अक्टूबर को मामले की अंतिम सुनवाई होगी और नवंबर के पहले सप्ताह में देश के इस बड़े मुकदमे में फैसला आ सकता है।

इस बीच यूपी से एक बड़ी खबर सामने आ रही है। अयोध्या केस में फैसला आने से पहले योगी सरकार ने बुधवार को एक बड़ा निर्णय लिया है।

ये भी पढ़ें…अयोध्या को लेकर दिए बयान पर CM योगी ने कही ये बात

दरअसल अयोध्या केस के मद्देनजर शासन की तरफ से आदेश जारी कर पुलिस प्रशासन के सभी अफसरों की छुट्टियां 30 नवंबर तक के लिए कैंसिल कर दी गईं हैं। उन्हें लखनऊ में रहने के लिए कहा गया हैं।

त्योहारों और राम जन्मभूमि मुद्दे पर अदालत का फैसला जल्द आने के मद्देनजर अयोध्या में अतिरिक्त सुरक्षाबलों की तैनाती की जा रही है। अयोध्या को हाई अलर्ट पर रखा गया है और दस अतिरिक्त कंपनियों को शहर में तैनात किया जा रहा है। इलाके में धारा 144 भी लागू कर दी गई है।

ये भी पढ़ें…अयोध्या केस: बाबरी के नीचे मंदिर था या मस्जिद? यहां जानें

एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा, ‘हम ड्रोन के साथ इलाके में निगरानी सुनिश्चित करेंगे। वहीं जिला प्रशासन ने अतिरिक्त बलों को ठहराने के लिए व्यवस्था करनी शुरू कर दी है। स्थानीय गेस्ट हाउस, धर्मशालाओं, स्कूलों और कॉलेजों का इस्तेमाल सुरक्षाबलों को ठहराने में किया जाएगा।

ये भी पढ़ें…1986 के बाद राजनीतिक मुद्दा बना अयोध्या विवाद, जानिए इतिहास