नतीजों से पहले मायावती की बड़ी कार्रवाई, करीबी नेता को बसपा से किया बर्खास्त

बसपा सुप्रीमो मायावती ने लोकसभा चुनाव 2019 में पार्टी विरोधी गतिविधियों में लिप्त पाए जाने पर बसपा के पूर्व मंत्री व कद्दावर नेता रामवीर उपाध्याय को पार्टी से निलंबित कर दिया गया है।

फ़ाइल फोटो

फ़ाइल फोटो

लखनऊ: बसपा सुप्रीमो मायावती ने लोकसभा चुनाव 2019 में पार्टी विरोधी गतिविधियों में लिप्त पाए जाने पर बसपा के पूर्व मंत्री व कद्दावर नेता रामवीर उपाध्याय को पार्टी से निलंबित कर दिया गया है। बसपा द्वारा जारी पत्र पर पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव मेवालाल गौतम का नाम और साइन है।

यह भी पढ़ें…यहां चढ़ता है नारियल, बजरंग बली मुंह में रखते ही कर देते हैं दो टुकड़े

रामवीर उपाध्याय पर लोकसभा चुनाव में आगरा, फतेहपुर सीकरी, अलीगढ़ समेत कई सीटों पर पार्टी का विरोध करने का आरोप है। रामवीर उपाध्याय को पार्टी ने विधानसभा में बसपा के मुख्य सचेतक पद से भी हटा दिया है। साथ ही कहा गया है कि वे अब पार्टी के किसी कार्यक्रम में शामिल नहीं होंगे और न ही उन्हें इसके आमंत्रित किया जाएगा।

यह भी पढ़ें…प्रियंका गांधी ने कार्यकर्ताओं से कहा, भूल जाएं एक्जिट पोल, मतगणना केंद्रों पर डटे रहें

बता दें कि बसपा ने पूर्व मंत्री रामवीर उपाध्याय अलीगढ़ में बीजेपी प्रत्याशी सतीश गौतम के साथ चुनाव प्रचार में भी दिखे। इतना ही नहीं रामवीर उपाध्याय आगरा से बीजेपी प्रत्याशी एसपी बघेल के साथ भी दिखे। रामवीर उपाध्याय के बीजेपी में शामिल होने की चर्चा थी, लेकिन वह खुद बसपा नहीं छोड़ना चाहते थे।