×

UP: माफियाओं की कमर तोड़ दीजिए, स्टंटबाजों से सख्ती से निबटा जाएः योगी आदित्यनाथ

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि हर एक माफिया की कमर तोड़ डालिए। सड़क ओवरब्रिज स्टंट करने की जगह नहीं है। ऐसी अराजकता पर सख्ती से लगाम लगाई जाए।

Shreedhar Agnihotri
Updated on: 18 May 2022 4:59 PM GMT
CM Yogi adityanath said development of education system in UP
X

CM Yogi Adityanath said development of education system in UP (फोटो साभार- सोशल मीडिया)

  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

UP News Today: उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath) ने आज फिर कहा कि राज्य सरकार जीरो टालरेंस नीति (Zero Tolerance Policy) पर चलती रहेगी। उन्होंने कहा कि माफिया प्रवृत्ति के किसी भी व्यक्ति को किसी भी ठेका-पट्टे के साथ जुड़ने न दिया जाए। योगी आदित्यनाथ ने कहा कि एक भी माफिया जुड़ेगा तो उसका पूरा गैंग वहां पर अनैतिक व अवैध गतिविधियों का अड्डा बना देगा।

योगी आदित्यनाथ ने कहा कि हर एक माफिया की कमर तोड़ डालिए। उन्होंने याद दिलाया कि विगत दिनों राम नवमी, अक्षय तृतीया, परशुराम जयंती और ईद सहित अनेक पर्वों के शांति और सौहार्दपूर्ण आयोजन के माध्यम से उत्तर प्रदेश ने एक बड़ा और सकारात्मक संदेश दिया है।

सड़क ओवरब्रिज स्टंट करने की जगह नहीं

आज शाम अधिकारियों के साथ हुई एक बैठक में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि 'सड़क ओवरब्रिज स्टंट करने की जगह नहीं है। ऐसी अराजकता पर सख्ती से लगाम लगाई जाए। उन्होंने कहा कि हर राहगीर को हेलमेट और सीटबेल्ट के प्रयोग को अनिवार्य रूप से कड़ाई के साथ लागू किया जाए। तथा विद्यालयों में रोड सेफ्टी क्लबश् का गठन करने की दिशा में कार्यवाही तेज करें।

CM योगी आदित्यनाथ ने कहा कि संवाद के माध्यम से ही हमने अनावश्यक रूप से लगाये गए लाउडस्पीकरों को हटाने में सफलता पाई है। लाउडस्पीकर की आवाज संबंधित परिसर के भीतर ही रहेगी। सौहार्द के साथ हमने यह करके उदाहरण प्रस्तुत किया है। यह स्थिति आगे भी बनी रहे। यदि फिर कहीं अनावश्यक लाउडस्पीकर लगाए जाने अथवा तेज आवाज में बजने की शिकायत मिली तो सम्बंधित सर्किल के पुलिस अधिकारी, डिप्टी कलेक्टर व अन्य अधिकारियों की जवाबदेही तय की जाएगी।

स्पीड ब्रेकर टेबल टॉप हों

उन्होंने कहा कि संवाद के माध्यम से विभिन्न जिलों में जो लाउडस्पीकर लोगों ने हटाये हैं, उन्हें आवश्यकतानुसार निकटस्थ स्कूलों को उपलब्ध कराने में सहयोग करें। योगी आदित्यनाथ ने कहा कि स्पीड ब्रेकर निर्माण करते समय लोगों की सुविधा का ध्यान भी रखें। स्पीड ब्रेकर टेबल टॉप हों। बुजुर्गों, बच्चों, महिलाओं, मरीजों को अनावश्यक परेशानी न उठानी पड़े। खराब डिजाइनिंग की वजह से अक्सर लोग स्पीड ब्रेकर के किनारे से वाहन निकालने का प्रयास करते हैं, जिससे दुर्घटना भी होती है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि ऐसा देखा जा रहा है कि अनेक अवैध एवं डग्गामार बसें उत्तर प्रदेश की सीमा से होकर विभिन्न राज्यों की ओर जा रही हैं। यह बसें ओवरलोड होती हैं। इनकी स्थिति भी जर्जर होती हैं। परिवहन विभाग द्वारा विशेष सतर्कता बरतते हुए ऐसे बसों के संचालन को रोका जाए। इनके परमिट सहित अन्य दस्तावेजों की जांच

दोस्तों देश और दुनिया की खबरों को तेजी से जानने के लिए बने रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलो करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

Shreya

Shreya

Next Story