×

UP Teachers Training: मैथ्य और साइंस पढ़ाने के गुण सीखेंगे सरकारी शिक्षक, IIT में होगी ट्रेनिंग

UP Teachers Training: उत्तर प्रदेश के शिक्षकों को मैथ्स और साइंस पढ़ाने के लिए आईआईटी गांधीनगर में ट्रेनिंग के लिए भेजा जा रहा है।

Sidheshwar Nath Pandey
Published on: 2 Jun 2024 1:31 PM GMT
UP Teachers Training
X

UP Teachers Training (Pic: Social Media)

UP Teachers Training: उत्तर प्रदेश में शिक्षा व्यवस्था को बेहतर करने के लिए प्रदेश के माध्यमिक शिक्षा विभाग ने नई पहल की शुरुआत की है। प्रदेश में गिरते शिक्षा के स्तर और शिक्षकों की अपर्याप्त ट्रेनिंग को बढ़ाने के लिए शिक्षा विभाग ने अध्यापकों के लिए ट्रेनिंग की व्यवस्था की है। बच्चों से जुड़ने और उन्हें अच्छे ढ़ग से पढ़ाने के लिए शिक्षा विभाग प्रदेश के कुछ टीचर्स को गुजरात भेज रहा है। उत्तर प्रदेश से 1200 किलोमीटर दूर गांधीनगर आईआईटी में इन्हें ट्रेनिंग दी जाएगी। इस ट्रेनिंग में अध्यापकों को वो तमाम तरीके और गुण सिखाए जाएंगे जिससे वो बच्चे को ज्यादा बेहतर शिक्षा दे सकें। ये ट्रेनिंग पांच दिन तक चलेगी। माना जाता है कि अध्यापकों को साइंस और मैथ्स समझाने में काफी मशक्कत करनी पड़ती है, इसलिए इन दोनों विषयों को ध्यान में रखते हुए सभी को ट्रेनिंग दी जाएगी।

46 जिलों से चुने गए शिक्षक

राज्य के शिक्षा विभाग ने पहली बार इस तरह के पहल की शुरुआत की है। इससे पहले किसी अध्यापक को ट्रेनिंग के लिए नहीं भेजा गया है। पहली बार होने वाले इस ट्रेनिंग शेसन के लिए 169 अध्यापकों को चुना गया है। इनमें सरकारी हाईस्कूल और इंटरमीडियट कॉलेज से टीचर्स को चुना गया है। चुने गए असिस्टेंट अध्यापकों और लेक्चरर्स को आईआईटी गांधीनगर में पांच दिनों तक ट्रेनिंग दी जाएगी। शिक्षा विभाग से जानकारी के अनुसार उत्तर प्रदेश के 46 जिलों से करीब 111 शिक्षक चुने गए हैं। प्रयागराज से भी पांच शिक्षकों को ट्रेनिंग के लिए भेजा जा रहा है। इनमें हाईस्कूल और इंटरमीडिएट के बच्चों को पढ़ाने वाले शामिल हैं। हाईस्कूल में साइंस और इंटरमीडिएट में फिजिक्स केमिस्ट्री और बायोलॉजी पढ़ाने वाले शिक्षकों को पांच से नौ जून तक गांधीनगर आईआईटी में रेजिडेंटल ट्रेनिंग दी जाएगी। मैथ्स पढ़ाने वाले शिक्षकों की ट्रेनिंग 24 से 28 जून तक चलेगी। इस दौरान शिक्षकों को अध्यापन के गुण सिखाए जाएंगे।

सरकारी खर्च पर होगी शिक्षकों की ट्रेनिंग

मीडिया रिपोर्टस के अनुसार शिक्षकों की इस ट्रेनिंग में कक्षा में पढ़ाने और डिजिटल उपकरणों के पठन-पाठन में उपयोग के बारे में बताया जाएगा। इसे समझने के लिए शिक्षकों को पहले ही लैपटॉप साथ लाने की सूचना दी गई है। ये ट्रेनिंग शिक्षा विभाग आयोजित कर रहा है इसलिए इसमें शिक्षकों का कोई खर्च नहीं लगेगा। सारा आयोजन सरकारी खर्च पर किया जाएगा। शिक्षकों को यात्रा खर्च जिला विद्यालय निरीक्षक द्वारा दिया जाएगा। इस ट्रेनिंग में जाने के लिए उत्तर प्रदेश की महानिदेशक (स्कूल शिक्षा) कंचन वर्मा ने सभी DIOS को आदेश दिया है कि चुने गए शिक्षकों को छुट्टी दे दी जाए। साथ ही यह भी कहा है कि डीआईओएस यह भी बताएं कि चुने गए शिक्षक ट्रेनिंग के लिए औपचारिक रूप से एक दिन पहले आईआईटी गांधीनगर पहुंच गए हैं।

Sidheshwar Nath Pandey

Sidheshwar Nath Pandey

Content Writer

मेरा नाम सिद्धेश्वर नाथ पांडे है। मैंने इलाहाबाद विश्विद्यालय से मीडिया स्टडीज से स्नातक की पढ़ाई की है। फ्रीलांस राइटिंग में करीब एक साल के अनुभव के साथ अभी मैं NewsTrack में हिंदी कंटेंट राइटर के रूप में काम करता हूं। पत्रकारिता के अलावा किताबें पढ़ना और घूमना मेरी हॉबी हैं।

Next Story