Top

परिवहन निगम की 3 हजार बसों में लगेगा ICE BOX, मिलेगा ठंडा पानी

Newstrack

NewstrackBy Newstrack

Published on 12 May 2016 5:25 AM GMT

परिवहन निगम की 3 हजार बसों में लगेगा ICE BOX, मिलेगा ठंडा पानी
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

लखनऊ: उप्र परिवहन निगम की बसों में आईस बाक्स लगेगा। ताकि यात्रा के दौरान प्यास लगने पर लोगों को ठंडा पानी उपलब्ध कराया जा सके। परिवहन राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) यासर शाह ने गुरुवार को कैसरबाग स्थित बस स्टेशन में निगम की बसों में ‘परिवहन नीर’ उपलब्ध कराने के व्यवस्था की शुरुआत भी की।

3 हजार बसों में लगाए जाएंगे आईस बाक्स

-परिवहन निगम की 3000 बसों में आईस-बाॅक्स की व्यवस्था की जाएगी।

-यह सुविधा 200 किलोमीटर से अधिक की दूरी तय करने वाली बसों में यात्रियों के लिए होगी।

-परिवहन मंत्री ने यह जानकारी देते हुए बताया कि इससे भीषण गर्मी में यात्रियों और उनके बच्चों को यात्रा के दौरान प्यास लगने पर शुद्ध व ठंडा पानी मिल सकेगा।

14 रुपए में एक और 9 रुपए में आधा लीटर की मिलेगी बोतल

-बस में यात्रियों को परिवहन नीर परिचालक के जरिए मिलेगा।

-बस में रखे आईस-बाॅक्स में एक लीटर की पच्चीस, आधा लीटर की 10 और दो लीटर की ‘परिवहन नीर’ की बोतलें रखी जाएंगी।

-एक लीटर की बोतल की कीमत 14 रुपए, आधा लीटर की 9 रुपए और दो लीटर की 22 रुपए है।

परिवहन मंत्री ने यह भी कहा

-प्यासे को पानी पिलाना ही सबसे बड़ी इबादत है, इससे बड़ी इबादत कोई हो ही नहीं सकती।

-कैसरबाग बस स्टेशन को अन्तर्राष्ट्रीय बस अड्डे के माॅडल के रूप में विकसित किया जाएगा।

-इसमें अन्तर्राष्ट्रीय एयरपोर्ट की तरह की सुविधाएँ होंगी।

1200 मृतक आश्रितों को समा​योजित किया जा रहा : अशीष गोयल

-उप्र राज्य सड़क परिवहन निगम के प्रबंध निदेशक आशीष गोयल ने बताया कि 1200 मृतक कर्मचारियों के आश्रितों को समायोजित किया जा रहा है।

-निगम द्वारा पत्रकारों, विकलांगजनों और राष्ट्रीय पुरस्कार प्राप्त शिक्षकों को स्मार्ट कार्ड की सुविधा दी जा रही है।

-यूपी पहला राज्य जहां आईटीएमएस योजना लागू किया गया है।

-परिवहन निगम शुद्ध लाभ अर्जित कर रहा है, यह यात्रियों की सुविधाएं बढ़ाने में खर्च होगा।

-प्रदेश में निगम द्वारा 9800 बसों का संचालन किया जा रहा है।

-प्रदेश में 44 बस स्टेशनों का उच्चीकरण किया जा रहा है।

-इसमें हाई एण्ड स्कैनिया और वाल्वो बसें, ग्रामीण अंचलों में निवास करने वाले लोगों के लिए लोहिया ग्रामीण बसें व साधारण बसें संचालित की जा रही हैं।

Newstrack

Newstrack

Next Story