Top

VIDEO: वाजिद ने कर दिया कमाल, घर पर ही बना डाला टू सीटर प्लेन

Rishi

RishiBy Rishi

Published on 15 May 2016 9:22 PM GMT

VIDEO: वाजिद ने कर दिया कमाल, घर पर ही बना डाला टू सीटर प्लेन
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

मुजफ्फरनगरः यहां के एक युवक अब्दुल वाजिद ने अपने घर पर एरोप्लेन तैयार किया है। वह भी बगैर किसी से तकनीकी मदद के बगैर। उसे अब जिला प्रशासन से मंजूरी मिलने का इंतजार है। वह प्लेन को नील गगन ताल के पास उड़ाना चाहता है।

plane-2 वाजिद के प्लेन को देखते गांव के लोग

कौन है अब्दुल वाजिद?

-शाहपुर थाना इलाके के कसेरवा गांव में वाजिद रहता है।

-उसने पहले भी कई प्लेन के मॉडल बनाए हैं जो रिमोट और वायर कंट्रोल से उड़ते हैं।

-अब्दुल वाजिद ने दिल्ली के अरविंदो कॉलेज से ग्रेजुएशन किया है।

-दिल्ली के सफदरजंग एयरपोर्ट से एयर मॉडलिंग का तीन साल का कोर्स भी किया है।

-नौकरी न मिलने के बाद वह गांव लौटा और विमान तैयार किया।

plane-3 वाजिद के प्लेन में प्रॉपेलर पीछे लगाया गया है

कैसा है अब्दुल का विमान?

-अब्दुल के प्लेन में दो लोग बैठ सकते हैं।

-प्लेन को उसने 10 महीने की मेहनत के बाद तैयार किया है।

-अभी तक प्लेन बनाने में 5 लाख रुपए खर्च हो चुके हैं।

-पहले इसमें अपाचे बाइक के दो इंजन अब्दुल ने लगाए थे।

-बाद में इसमें मारुति वैन का इंजन लगाया, उसका पिस्टन और कई अन्य चीजें बदलीं।

plane-4 वाजिद के प्लेन के कॉकपिट में लगे कंट्रोल

एनसीसी ने शौक जगाया

-अब्दुल वाजिद के अनुसार एनसीसी की वजह से प्लेन बनाने का शौक जगा।

-एनसीसी एयर विंग के कैडेट रहे हैं वाजिद।

-छोटे मॉडल बनाने के बाद बड़ा एरोप्लेन तैयार किया।

पार्ट्स के लिए हुई दिक्कत

-वाजिद के मुताबिक उनके प्लेन में कई नए पार्ट्स लगे हैं।

-दिल्ली से ये पार्ट उन्होंने खरीदे।

-कंट्रोल के लिए ओरिजिनल प्लेन के ही पार्ट्स लगाए गए हैं।

-एक मॉडल ऐसा भी है जो हेलीकॉप्टर और फिर प्लेन की तरह उड़ता है।

-जल्दी ही अपना एरोप्लेन उड़ाने के लिए जिला प्रशासन से मंजूरी मांगने जाएंगे।

Rishi

Rishi

आशीष शर्मा ऋषि वेब और न्यूज चैनल के मंझे हुए पत्रकार हैं। आशीष को 13 साल का अनुभव है। ऋषि ने टोटल टीवी से अपनी पत्रकारीय पारी की शुरुआत की। इसके बाद वे साधना टीवी, टीवी 100 जैसे टीवी संस्थानों में रहे। इसके बाद वे न्यूज़ पोर्टल पर्दाफाश, द न्यूज़ में स्टेट हेड के पद पर कार्यरत थे। निर्मल बाबा, राधे मां और गोपाल कांडा पर की गई इनकी स्टोरीज ने काफी चर्चा बटोरी। यूपी में बसपा सरकार के दौरान हुए पैकफेड, ओटी घोटाला को ब्रेक कर चुके हैं। अफ़्रीकी खूनी हीरों से जुडी बड़ी खबर भी आम आदमी के सामने लाए हैं। यूपी की जेलों में चलने वाले माफिया गिरोहों पर की गयी उनकी ख़बर को काफी सराहा गया। कापी एडिटिंग और रिपोर्टिंग में दक्ष ऋषि अपनी विशेष शैली के लिए जाने जाते हैं।

Next Story