Top

HE NAMED ME MALALA: यूपी के 20 गांवों तक पहुंची शिक्षा की रोशनी

Rishi

RishiBy Rishi

Published on 12 July 2016 8:44 PM GMT

HE NAMED ME MALALA: यूपी के 20 गांवों तक पहुंची शिक्षा की रोशनी
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

लखनऊः मंगलवार को पूरी दुनिया ने बच्चियों की शिक्षा के पक्ष में आवाज उठाने वाली मलाला यूसुफजई का जन्मदिन मनाया। इस मौके पर यूपी में भी तमाम कार्यक्रम हुए। बता दें कि मलाला की ओर से बच्चियों की शिक्षा को लेकर विशेष अभियान चलाया जा रहा है। 'ही नेम्ड मी मलाला' प्रोजेक्ट में यूपी के इलाहाबाद और मेरठ जिले के कुल 20 गांवों को भी शामिल किया गया है। जिससे यहां रहने वाली बच्चियों तक शिक्षा की रोशनी पहुंच रही है।

प्रोजेक्ट की खास बातें

-इसी साल फरवरी में शुरू हुआ था मलाला यूसुफजई का प्रोजेक्ट।

-इलाहाबाद के नैनी के 10 गांवों के सरकारी स्कूल प्रोजेक्ट के तहत चुने गए।

-मेरठ के जानी ब्लॉक के भी 10 स्कूलों को मलाला के प्रोजेक्ट का हिस्सा बनाया गया।

-इनके अलावा राजस्थान के उदयपुर, भरतपुर और बिहार के समस्तीपुर भी शामिल।

किनके सहयोग से चल रहा प्रोजेक्ट?

-एनसीई नाम के संगठन को प्रोजेक्ट का जिम्मा मिला है।

-कई बच्चियों को इस संगठन ने मलाला लीडर के तौर पर चुना है।

-प्रोजेक्ट को यूनिसेफ, ऑक्सफैम और नेशनल कोअलिशन फॉर एजुकेशन भी सपोर्ट कर रहे हैं।

Rishi

Rishi

आशीष शर्मा ऋषि वेब और न्यूज चैनल के मंझे हुए पत्रकार हैं। आशीष को 13 साल का अनुभव है। ऋषि ने टोटल टीवी से अपनी पत्रकारीय पारी की शुरुआत की। इसके बाद वे साधना टीवी, टीवी 100 जैसे टीवी संस्थानों में रहे। इसके बाद वे न्यूज़ पोर्टल पर्दाफाश, द न्यूज़ में स्टेट हेड के पद पर कार्यरत थे। निर्मल बाबा, राधे मां और गोपाल कांडा पर की गई इनकी स्टोरीज ने काफी चर्चा बटोरी। यूपी में बसपा सरकार के दौरान हुए पैकफेड, ओटी घोटाला को ब्रेक कर चुके हैं। अफ़्रीकी खूनी हीरों से जुडी बड़ी खबर भी आम आदमी के सामने लाए हैं। यूपी की जेलों में चलने वाले माफिया गिरोहों पर की गयी उनकी ख़बर को काफी सराहा गया। कापी एडिटिंग और रिपोर्टिंग में दक्ष ऋषि अपनी विशेष शैली के लिए जाने जाते हैं।

Next Story