×

वाराणसी: पीएम के दौरे पर एसपीजी का कड़ा पहरा, सौगातों की होगी बौछार

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के एक बार अपने संसदीय क्षेत्र वाराणसी के दौरे पर पहुंच रहे हैं। मोदी 19 फरवरी को वाराणसी पहुंचेंगे। इस दौरान रोहनिया के औढ़े गांव में जनसभा को संबोधित करने के साथ ही मोदी सीरगोवर्धन स्थित संत रविदास मंदिर भी जाएंगे।

Rishi

RishiBy Rishi

Published on 17 Feb 2019 2:22 PM GMT

वाराणसी: पीएम के दौरे पर एसपीजी का कड़ा पहरा, सौगातों की होगी बौछार
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

वाराणसी : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के एक बार अपने संसदीय क्षेत्र वाराणसी के दौरे पर पहुंच रहे हैं। मोदी 19 फरवरी को वाराणसी पहुंचेंगे। इस दौरान रोहनिया के औढ़े गांव में जनसभा को संबोधित करने के साथ ही मोदी सीरगोवर्धन स्थित संत रविदास मंदिर भी जाएंगे। मोदी के दौरे को लेकर सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए जा रहे हैं। खासतौर से पुलवामा में हुई आतंकी घटना के बाद चप्पे-चप्पे पर निगाह रखी जा रही है।

ये भी देखें :संत, संस्कृति की रक्षा करते है और सैनिक देश की सीमाओं की: चिदानन्द सरस्वती

एसपीजी की टीम ने डाला डेरा

वाराणसी आगमन से एसपीजी ने शहर में डेरा डाल दिया है। सभी प्रस्तावित कार्यक्रम स्थलों को अपने कब्जे में ले लिया। रोहनियां स्थित औढ़े गांव में सभास्थल के आसपास सुरक्षा के तगड़े इंतजाम किए गए हैं। सुरक्षा व्यवस्था को परखने पहुंचीं एसपीजी की टीम ने पीएम की सभा के लिये बनाये जा रहे मंच के बारे में जानकरी ली। अधिकारियों ने बताया कि मंच 8 मीटर ऊंचा है। उसके बाद मंच के सामने बनाई जाने वाली डी के बारे में जानकारी ली। कहा कि सुरक्षा मानकों को ध्यान रखकर काम करायें। उसके बाद तीनों गैंगवे और बैरीकेडिंग के बारे में जानकारी ली। इसके साथ ही एसपीजी की टीम ने सीरगोवर्धन में भी बीएचयू में प्रस्ताविक कार्यक्रम स्थल का निरीक्षण किया।

ये भी देखें :पुलवामा अटैक के बाद अलगाववादी नेता पर बड़ी कार्रवाई, हटाई गई सुरक्षा

खुफिया विभाग सतर्क

सुरक्षा के मद्देनजर प्रधानमंत्री के कार्यक्रम स्थल पर आने वाले प्रत्येक व्यक्ति की विधिवत तलाशी ली जाएगी। काले कपड़े पर प्रतिबंध रखा गया है। हालांकि सुरक्षाकर्मियों को ये आदेश दिया गया है कि तलाशी की आड़ में किसी के साथ अभद्रता ना हो। पीएम की सुरक्षा के लिए आसपास के जिलों से फोर्स बुलाई गई है। इस बीच पुलवामा में हुये आतंकी हमले के बाद केंद्रीय खुफिया इकाइयों के अधिकारियों को भी अलर्ट कर दिया गया है। एसपीजी ने पुलिस को निर्देश दिया कि लोकल स्तर पर भी जां एजेंसियों को अलर्ट कर दिया जाये।

17 वें दौरे पर भी सौगातों की बौछार करेंगे मोदी, ये हैं तैयारियां

वाराणसी। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी एक बार फिर अपने संसदीय क्षेत्र वाराणसी की जनता को सौगात देने के लिए आ रहे हैं। 19 फरवरी को पहुंच रहे मोदी के पिटारे से इस बार 21 सौ करोड़ रुपए की अलग-अलग परियोजनाओं की सौगात है। इसमें बीएचयू में बना कैंसर हॉस्पिटल के अलावा काशी विश्वनाथ कॉरीडोर शामिल है। पीएम के दौरे को लेकर तैयारियां जोरों पर हैं।

कैंसर हॉस्पिटल का करेंगे लोकार्पण

मोदी सरकार का दावा रहता है कि वो जिस कार्य का शिलान्यास करते हैं, उसका लोकार्पण भी करते हैं। अपने इसी मुहिम को आगे बढ़ाते हुए मोदी पूर्वांचल की जनता को कैंसर हॉस्पिटल का सौपेंगे। 800 करोड़ रुपए की लागत से बने आधुनिकतम सुविधाओं वाले इस अस्पताल में 530 बेड है। बीएचयू में बना कैंसर हॉस्पिटल रिकॉर्ड दस महीने में तैयार हुआ है। मोदी इसके अलावा 200 करोड़ रुपए से बने सुपर स्पेशिएलिटी सेंटर का भी उद्घाटन करेंगे। इन दोनों हॉस्पिटल के बनने के बाद वाराणसी की पहचान देश में मेडिकल हब के रूप में होने लगेगी।

काशी विश्वनाथ मंदिर कॉरीडोर की रखेंगे नींव

अपने 17 वें दौरे पर पहुंच रहे पीएम मोदी काशी विश्वनाथ कॉरीडोर की नींव भी रखेंगे। मोदी निर्माण कार्य शुरू करने के लिए भूमि पूजन करेंगे। काशी विश्वनाथ कॉरीडोर को मोदी का ड्रीम प्रोजेक्ट माना जाता है। इसके अलावा मोदी गोइठहां ट्रीटमेंट प्लांट, स्मार्ट सिटी इंटीग्रेटेड कमांड सेंटर का भी उद्घाटन करेंगे। वाराणसी प्रवास के दौरान मोदी सीरगोवर्धन स्थित संत रविदास की जन्मस्थली पर भी जाएंगे।

रोहनियां में जनसभा को करेंगे संबोधित

माहौल चुनावी है, लिहाजा प्रधानमंत्री अपने संसदीय क्षेत्र के लोगों से रुबरु भी होंगे। रोहनियां के औढ़े गांव में एक चुनावी जनसभा को संबोधित करेंगे। रैली में करीब तीन लाख लोगों के पहुंचने की संभावना है। रैली को कामयाब बनाने के लिए बीजेपी की स्थाई ईकाई ने पूरी ताकत झोंक दी है।

Rishi

Rishi

आशीष शर्मा ऋषि वेब और न्यूज चैनल के मंझे हुए पत्रकार हैं। आशीष को 13 साल का अनुभव है। ऋषि ने टोटल टीवी से अपनी पत्रकारीय पारी की शुरुआत की। इसके बाद वे साधना टीवी, टीवी 100 जैसे टीवी संस्थानों में रहे। इसके बाद वे न्यूज़ पोर्टल पर्दाफाश, द न्यूज़ में स्टेट हेड के पद पर कार्यरत थे। निर्मल बाबा, राधे मां और गोपाल कांडा पर की गई इनकी स्टोरीज ने काफी चर्चा बटोरी। यूपी में बसपा सरकार के दौरान हुए पैकफेड, ओटी घोटाला को ब्रेक कर चुके हैं। अफ़्रीकी खूनी हीरों से जुडी बड़ी खबर भी आम आदमी के सामने लाए हैं। यूपी की जेलों में चलने वाले माफिया गिरोहों पर की गयी उनकी ख़बर को काफी सराहा गया। कापी एडिटिंग और रिपोर्टिंग में दक्ष ऋषि अपनी विशेष शैली के लिए जाने जाते हैं।

Next Story