इस आदमी ने बेटियों को दरिंदों का शिकार होने से बचाने के लिए उठाया ये बड़ा कदम

प्रदेश में महिलाओं के प्रति बढ़ते अपराध ने लोगों को हिलाकर रख दिया है। जनता सड़कों पर उतरकर अपने तरह से प्रदर्शन कर रही है। बनारस में भी एक पिता ने अपनी बेटी की हिफाजत के लिए अनोखे अंदाज में प्रदर्शन किया।

Published by Aditya Mishra Published: December 8, 2019 | 1:29 pm
Modified: December 8, 2019 | 2:45 pm
Unnao Rape Case

Unnao Rape Case

वाराणसी: प्रदेश में महिलाओं के प्रति बढ़ते अपराध ने लोगों को हिलाकर रख दिया है। जनता सड़कों पर उतरकर अपने तरह से प्रदर्शन कर रही है। बनारस में भी एक पिता ने अपनी बेटी की हिफाजत के लिए अनोखे अंदाज में प्रदर्शन किया।

समाजवादी पार्टी एक पूर्व पार्षद रविकांत विश्वकर्मा गले में अग्निशमन यंत्र टांग बेटियों के हाथ में ‘हमें मत जलाना’ की तख्तियां पकड़ाकर उन्हें स्कूल छोड़ने के लिए जाते दिखाई दिए।

 

ये भी पढ़ें…उन्नाव रेप पीड़िता के परिजन बोले- जब तक CM योगी नहीं आते तब तक नहीं करेंगे अंतिम संस्कार

चर्चा का विषय बना प्रदर्शन

रविकांत विश्वकर्मा का यह अनोखा तरीका पूरे जिले में चर्चा का विषय बना हुआ है। दरअसल बीते दिनों हैदराबाद में एक महिला डाॅक्टर के साथ हैवानियत की घटना को अंजाम दिया गया।

उसके ठीक बाद उन्नाव में भी हैवानियत की एक घटना के सामने आने के बाद लोगों में डर का माहौल है, जिसकी एक बानगी वाराणसी में देखने को मिली।

अनोखा विरोध प्रदर्शन करने वाले पूर्व पार्षद ने बताया कि बेटियों को रोज स्कूल छोड़ने जाते हैं लेकिन अब साथ में अग्निशमन यंत्र लेकर जा रहे हैं क्योंकि बेटियों की सुरक्षा बहुत जरूरी हो गई है,जिस तरह से महिलाओं और बच्चियों के खिलाफ अपराध उत्तर प्रदेश में बढ़ा है।

उससे हर अभिभावक के मन में डर पैदा हुआ है इसलिए जरूरी है कि बेटी को छोड़ने जाए तो अग्निशमन यंत्र साथ रखें। उसके साथ ऐसी कोई घटना होने पर तत्काल उसकी जिंदगी बचाई जा सके।

ये भी पढ़ें…उन्नाव का रोंगटे खड़े करने वाला सच, 86 रेप सिर्फ 11 महीने में