Top

वरुण ने साधा अपनी सरकार पर निशाना, कहा- शिक्षा पर 2% खर्च शर्म की बात

Admin

AdminBy Admin

Published on 27 Feb 2016 10:16 AM GMT

वरुण ने साधा अपनी सरकार पर निशाना, कहा- शिक्षा पर 2% खर्च शर्म की बात
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

वाराणसी: बीजेपी नेता और सुल्तापुर से सांसद वरुण गांधी शनिवार को वाराणसी पहुंचे। यहां वो अशोका इंस्टीट्यूट के पहले दीक्षांत समारोह में बतौर चीफ गेस्ट शामिल हुए। इस दौरान उन्होंने वर्तमान राजनीति, आर्थिक असमानता और भ्रष्टाचारियों पर जमकर हमला बोला। उन्होंने कहा कि बजट में शिक्षा पर 2 फीसदी खर्च होना शर्म की बात है। हेल्थ पर भी बजट का आठ प्रतिशत सरकार को खर्च करना चाहिए। शिक्षा और हेल्थ किसी भी देश के लिए बहुत जरूरी है। शिक्षा पर बजट का कम से कम 10 फीसदी खर्च होना चाहिए। वरूण गांधी ने जेएनयू का नाम लिए बिना कहा कि आज हर चीज का राजनीतिकरण किया जा रहा है। हालांकि वो संसद के हंगामे के बारे में कुछ नहीं बोले। उन्होंने यूपी की कानून-व्यवस्था की हालत खराब बताई और कहा कि इस राज्य में कोई भी बड़ा बिजनेसमैन कारखाना नहीं लगाना चाहता। आज देश में धर्म और जाति की राजनीति हो रही है जो नहीं होनी चाहिए।

विजय माल्या पर भी साधा निशाना

वरुण गांधी ने विजय माल्या पर हमला बोलते हुए कहा कि जिस विजय माल्या की फोटो अय्याशी करते हुए देखी जाती है, वही विजय माल्या आज सरकारी बैंक का लाखों-करोड़ों रुपया लेकर बैठा हुआ है और अपने कर्मचारियों को वेतन तक नहीं दे रहा है। ऐसे विजय माल्या को जेल में होना चाहिए।

और क्या बोले वरुण गांधी ?

-देश का 61 फीसदी धन एक फीसदी लोगों के पास है। बैंकों का 16 लाख करोड़ का लोन डिफॉल्टरों के पास है।

- जात-पात, हिंदू-मुस्लिम की जगह आर्थिक असमानाता पर बातें होनी चाहिए।

- वामपंथ और दक्षिणपंथ की बातें बहुत लंबे समय से हो रही हैं।

-अब गरीब से गरीब तबकों को उनका अधिकार दिलाने पर चर्चा होनी चाहिए।

- धर्म के नाम पर राजनीति करने वालों को शर्म आनी चाहिए।

किसानों के बीच मनाएंगे जन्मदिन

-इस बार मैं 13 मार्च को अपना जन्मदिन किसानों के बीच मनाऊंगा।

- जन्मदिन पर मुरादाबाद के तीन विधानसभा क्षेत्रों में जाऊंगा।

-आत्महत्या करने वाले किसानों के परिवार को एक-एक लाख रुपए भी दूंगा।

- मैं अपना एक महीने का वेतन भी किसानों को दूंगा।

दीक्षांत समारोह में किसे क्या मिला ?

- 52 रिसर्च स्कॉलर को पीएचडी की उपाधि और एक को डी-लिट की उपाधि दी गई।

- एक चांसलर गोल्ड मेडल, 14 चांसलर रजत पदक, 19 चांसलर कांस्य पदक और 40 विन्यास पदक भी मेधावियों को दिए गए।

-इनमें एक गोल्ड मेडल, 11 सिल्वर मेडल, 13 कांस्य पदक और 28 विन्यास पदक भी छात्राओं को दिए गए।

Admin

Admin

Next Story