Top

मरीजों के जले पर नमक छिड़क रहा मेडिकल कॉलेज प्रशासन

By

Published on 1 July 2016 11:51 AM GMT

मरीजों के जले पर नमक छिड़क रहा मेडिकल कॉलेज प्रशासन
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

गोरखपुर: एक तरफ जहां प्रदेश सरकार 24 घंटे बिजली मुहैया कराने की बात कहती है तो वहीं दूसरी तरफ गोरखपुर का बाबा राघव दास मेडिकल कॉलेज में स्थिति बत्तर होती जा रही है। मेडिकल कॉलेज के बर्न बार्ड में जले मरीज बिजली न आने की मार झेल रहे हैं।

मेडिकल कॉलेज के बर्न बार्ड में 150 बेड हैं और यहां रोज आधा दर्जन मरीज भर्ती होते हैं, लेकिन इन मरीजो की सुध लेने वाला कोई नहीं है। मेडिकल कॉलेज प्रशासन का रवैया मरीजो के प्रति ठीक नहीं रहता है। भर्ती मरीजो के परिजन हाथ के बने हुए पंखे से हवा करके घाव पर मलहम लगाते है और मेडिकल कॉलेज प्रशासन के लोग एसी की हवा खा रहे हैं। उन्हें इस बात से कोई फर्क नहीं पड़ता है कि मरीज इस गर्मी में कितना परेशान है।

डाक्टरों द्वारा मरीजो और उनके परिजनों के साथ मार पीट और दुर्व्यवार की घटना आम है। किसी तरह दबी जुबान में परिजनों ने कहा कि ये तो रोज कि दिनचर्या बन गई है और यहां का जनरेटर भी खराब है। ऐसी स्थिति में मरीज जाए तो जाए कहां? ये एक गंभीर सवाल है सरकार के लाख दावों को यहां के जिम्मेदार ही चुना लगा रहे है।

Next Story