×

UP Election 2022 : जिलाध्यक्ष की बदसलूकी से बिदक गए विधायक, भाजपा को बाय-बाय कर थामा सपा का दामन

UP Election 2022 : राजगढ़ के पूर्व विधायक एवं जिला सहकारी बैंक के अध्यक्ष राजेंद्र प्रसाद सिंह पटेल (former mla and District Cooperative Bank president Rajendra Prasad Singh Patel) ने भी आज समाजवादी पार्टी का हाथ थाम लिया।

Brijendra Dubey

Report Brijendra DubeyPublished By Ragini Sinha

Published on 15 Jan 2022 6:14 AM GMT

Up election today live news
X

जिलाध्यक्ष की बदसलूकी से बिदक गए विधायक, भाजपा को बाय बाय कर थामा सपा का हाथ

  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

Up Election 2022 : UP Election 2022 : भाजपा (BJP) में मची भगदड़ के बीच राजगढ़ के पूर्व विधायक एवं जिला सहकारी बैंक के अध्यक्ष राजेंद्र प्रसाद सिंह पटेल (former mla and District Cooperative Bank president Rajendra Prasad Singh Patel) ने भी आज अपनी पुरानी पार्टी को बाय बाय कर समाजवादी पार्टी (Samajwadi party) में शामिल हो गए । इसके पीछे एक महिला के इशारे पर भाजपा जिलाध्यक्ष (BJP District President) के द्वारा बैंक के सचिव को धमकी देना बताया जाता हैं ।

बैंक को लेकर शुरु हुई रार, टूट गया दिल का तार

जिला सहकारी बैंक के चेयरमैन (co-operative bank chairman) के अधिकार क्षेत्र में नियम के विपरीत दखलंदाजी और बदसलूकी ने मर्माहत कर दिया था। उन्होंने अपना दर्द कई लोगों से कहा हर तरफ से निराशा हाथ लगने पर भाजपा के वरिष्ठ कद्दावर नेता ने अंततः जिस पार्टी के लिए तन मन धन से समर्पित रहे उसी को अलविदा कह कर सपा का झंडा थाम लिया ।


25 बीघा जमीन की जालसाजी का मुकदमा

बताया जाता है कि एक महिला को कुछ माह पूर्व भाजपा की सदस्यता ग्रहण कराया गया। कुछ दिन में ही भाजपा जिलाध्यक्ष उस पर इस कदर मेहरबान हुए कि उसे भाजपा महिला मोर्चा का जिलाध्यक्ष पद पर आसीन करा दिया, जबकि उस महिला और उसके पति समेत कई लोगों पर करीब 25बीघा जमीन की जालसाजी का मुकदमा कायम हैं। एक साल से अधिक का समय बीत जाने के बाद भी मड़िहान पुलिस ने अब तक सत्ता की नेत्री के प्रति कोई कार्रवाई न किया जाना लोगों में आश्चर्य का विषय बना हैं।

गृह स्वामी बैक जाने का विरोध करने लगा

उसी नेत्री के कैलहट स्थित एक मकान में किराए पर जिला सहकारी बैंक की कैलहट शाखा संचालित थी। उस मकान का अगला हिस्सा राज मार्ग के चौड़ीकरण में आने के बाद तोड़ दिया है था। तब तक बैंक से किया गया करार भी समाप्त हो गया। इस बीच बैंक को गृह स्वामी ने अपने प्राइवेट आईटीआई भवन में स्थानांतरित कर दिया। करार खत्म होने पर बैंक ने दूसरी जगह स्थान देख शाखा स्थानांतरित करने के लिए सामान भेजना चाहा तो गृह स्वामी ने बैंक पर ताला बंद कर बैक जाने का विरोध करने लगा।

राजेंद्र प्रसाद सिंह पटेल ने थामा सपा का हाथ

इस मामले में कूदे भाजपा जिलाध्यक्ष बृज भूषण सिंह बैंक के लोगों से इस क़दर बदसलुकी किया कि लोग अपमान का घूंट पीकर रह गए । अपने ही पार्टी के जिलाध्यक्ष की करनी और कथनी से जिला सहकारी बैंक के चेयरमैन राजेन्द्र प्रसाद सिंह पटेल टूट गए । मकर संक्रांति पर्व पर राजेंद्र प्रसाद सिंह पटेल ने अपने दर्जनों समर्थको के साथ सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव के सामने सदस्यता ग्रहण किया । इधर उनके समर्थकों ने भी भाजपा के प्रति अपना आक्रोश जताया । बैक अब भी टूटे भवन में संचालित किया जाना पूर्व विधायक के दर्द -ए -दिल का हाल बयां कर रहा है । सिद्धांतवादी पार्टी में अभी कितनी बार भगदड़ मचेगा यह लोगों में चर्चा का विषय बना हैं ।

Taza khabar aaj ki uttar pradesh 2022, ताजा खबर आज की उत्तर प्रदेश 2022

Ragini Sinha

Ragini Sinha

Next Story