×

Sonbhadra News: पर्यटकों और फिल्मकारों को पंसद आ रही वादियां, शुरू हुई फिल्मों की शूटिंग

Sonbhadra News: सोनभद्र में बारिश में पर्यटन की शुरुआत होने के साथ ही भोजपुरी फिल्म रोटी की शूटिंग शुरू हो गई है।

Kaushlendra Pandey

Kaushlendra PandeyReport Kaushlendra PandeyDivyanshu RaoPublished By Divyanshu Rao

Published on 29 July 2021 8:16 AM GMT

Sonbhadra News
X

सोनभद्र की वादियों में भोजपुरी फिल्म की शूटिंग (डिजाइन फोटो:न्यूज़ट्रैक)

  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

Sonbhadra News: उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के सोनभद्र (Sonbhadra ) जिलें में दुनिया के अजूबे डेढ़ सौ करोड़ वर्ष प्राचीन फासिल्स के साथ ही प्राकृतिक सुषमा से भरपूर सोनभद्र की वादियां पर्यटकों के साथ ही फिल्मकारों को भी आकर्षित करने लगी हैं। पिछले कई साल से जहां यहां हर माह किसी न किसी भोजपुरी फिल्म की शूटिंग जारी है। वहीं गैंग्स आफ वासेपुर सहित कई प्रसिद्ध बॉलीवुड फिल्मों के सीन के फिल्मांकन की भी यहां की वादियां गवाह रह चुकी हैं। इन दिनों यहां बारिश के पर्यटन की शुरुआत होने के साथ ही भोजपुरी फिल्म रोटी की शूटिंग शुरू हो गई है।

सोनभद्र के खूबसूरत पहाड़


बृहस्पतिवार को जनपद मुख्यालय से आठ किमी दूर सोनवट गांव में अधिवक्ता विजय प्रकाश पांडेय के आवास और उनके इर्द-गिर्द के स्थलों पर इस फिल्म के कई शॉट फिल्माए गए। फिल्म का निर्देशन कर रहे धीरेंद्र कुमार झा ने बताया कि इस फिल्म में समाज के कमजोर, दलित, शोषित वर्ग पर जमीदारों के शोषण, जुल्म और अत्याचार तथा इसका शोषित वर्ग द्वारा विरोध, जाति प्रथा के उन्मूलन जैसे मसलों को फिल्माया गया है।

भोजपुरी के कई स्टार फिल्म में कर रहे अभिनय

इसमें प्रसिद्ध भोजपुरी अभिनेत्री काजल यादव, अभिनेता अमित शुक्ला, कुणाल तिवारी सहित अन्य कलाकार मुख्य भूमिका में है। उन्होंने आगे बताया कि यह उनकी तेरहवीं फिल्म है। इससे पूर्व जिला मुख्यालय से छह किलोमीटर की दूरी पर स्थित पुरातात्विक महत्व वाले शिवालय के स्थापना का गौरव रखने वाले मड़रा गांव में भोजपुरी फिल्म 'दिया और बाती' की शूटिंग करवा चुके हैं। धीरेंद्र कुमार ने कहा कि जिला मुख्यालय के इर्द-गिर्द ग्रामीण संस्कृति, सुरम्य वातावरण, फिल्मी पटकथा के अनुकूल माहौल के कारण उन्होंने यहां दूसरी बार फिल्म की शूटिंग शुरू करवाई है।

धीरेंद्र कुमार ने कहा कि जल्द ही सोनभद्र की किसी महत्वपूर्ण घटना पर आधारित फिल्म का भी निर्माण शुरू कराया जाएगा और पूरी फिल्म जनपद के विभिन्न स्थलों पर फिल्माई जाएगी।

बॉलीवुड की जानी मानी हस्थियों ने सोनभद्र के प्राकृतिक सौंदर्य को निहारा

बता दें कि नाना पाटेकर, आयशा जुल्का, जया प्रदा सहित कई सिने तारिकाएं और अभिनेता यहां के प्राकृतिक सौंदर्य को करीब से निहार चुके हैं। प्रसिद्ध फिल्म निर्माता इकबाल दुर्रानी, अनुराग कश्यप भी यहां के प्राकृतिक सौंदर्य से अभीभूत हो चुके हैं। बप्पी लहरी के गीत भी यहां की फिजाओं में सुनने को मिले हैं।


सोनभद्र की हरी भरी वादियां शहर को रोमांचक बनाती है

आपको बता दें कि मन को असीम शांति देने वाली यहां की हरी-भरी वादियां रोमांच और रहस्य से परिपूर्ण है। यहीं कारण है कि प्रकृति प्रेमियों और शोधकर्ताओं के साथ ही मुंबइया फिल्म जगत से जुड़े लोग यहां की हरी-भरी वादियों, नदियों, घाटियों, पहाड़ों, गुफाओं और कंदराओं की तरफ आकर्षित और यहां के प्रागैतिहासिक कालीन रहस्यों को जानने के लिए उत्सुक होने लगे हैं।

सोनभद्र जिले की प्रसिद्ध गीतकार डा. रचना तिवारी के पांचवें काव्य संग्रह 'जिंदा खत' के विमोचन के सिलसिले में वर्ष 2019 में जिले में दूसरी बार आए फिल्म निर्माता इकबाल दुर्रानी ने यहां के प्राकृतिक सौंदर्य को अद्भुत बताया था। स्पष्ट शब्दों में कहा था कि अगर उन्हें यहां के ऐसी कोई कहानी मिलती है जिसे बड़े पर्दे पर उतारा जा सके तो वह उस पर फिल्म जरूर बनाएंगे।

सोनभद्र में पांच स्टार होटलों की सुविधा नहीं

भोजपुरी फिल्मों के फिल्मांकन का केंद्र बनते जा रहे सोनभद्र में बड़ी फिल्मों की शूटिंग न होने के सवाल पर कहा था कि यहां कोई फाइव स्टार होटल या उस तरह की सुविधाएं नहीं हैं, जिससे यहां बॉलीवुड के अभिनेता और अभिनेत्रियां रुक सकें। अगर यहां संसाधनों के विकास पर ध्यान दे दिया जाए तो निश्चित तौर पर यह जिला फिल्म सिटी के रूप में विकसित नजर आएगा। बताते हैं कि ग्रामीण संस्कृति में गहरी आस्था रखने वाले इकबाल दुर्रानी चार वेदों में एक सामवेद का हिंदी और उर्दू में अनुवाद भी कर चुके हैं।

Divyanshu Rao

Divyanshu Rao

Next Story