Top

पुलिस कस्टडी में मौत, तोड़फोड़ और लाठीचार्ज के बाद नोएडा में तनाव

Admin

AdminBy Admin

Published on 29 April 2016 2:11 PM GMT

पुलिस कस्टडी में मौत, तोड़फोड़ और लाठीचार्ज के बाद नोएडा में तनाव
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

नोएडा: आपसी झगड़े के बाद हिरासत में लिए गए एक व्यक्ति की मौत के बाद लोगों ने जमकर हंगामा किया। भीड़ ने सेक्टर 62 के पास ममूरा चौक पर टायर जला कर जाम लगा दिया। इससे फेस-3, सेक्टर-71, 62, 61, 59 और 58 की बेहद बिजी सड़कों पर दोपहर में एक किमी से ज्यादा लंबा जाम लग गया।

जाम हटाने के लिए किए गए पुलिस लाठीचार्ज के बाद गुस्साई भीड़ ने पथराव और तोड़फोड़ भी की। हिरासत में मौत को परिजन हत्या बता रहे हैं। जबकि पुलिस का कहना है कि मृतक पुलिस जीप से कूदने के कारण घायल हो गया था, जिसकी इलाज के दौरान मौत हो गई।

पुलिस कस्टडी में था मृतक

-आपसी झगड़े के बाद गुरुवार शाम पुलिस ने ममूरा निवासी विनोद और सुरेश को हिरासत में लिया था।

-रात में पुलिस ने विनोद के परिजनों को बताया कि पीसीआर वैन से कूदने के चलते विनोद के सिर में चोट लग गई है।

-जिसे डिस्ट्रिक्ट हॉस्पिटल से जीटीबी अस्पताल, दिल्ली रेफर कर दिया गया है।

-सुबह तक पुलिस चोट लगने का बयान देती रही, लेकिन दोपहर में 35 वर्षीय विनोद की मौत हो जाने की बात कही।

-विनोद की मौत की खबर लगते ही सैकड़ों लोग ममूरा चौक पर जमा हो गए और आगजनी और तोड़फोड़ के साथ पुलिस के खिलाफ प्रदर्शन करने लगे।

noida-custody-death-2 कस्टडी में मौत के बाद भड़की हिंसा

पुलिस छावनी बना बिजी इलाका

-हंगामे की खबर मिलते ही 7 थानों के पुलिस बल के अलावा भारी संख्या में पीएसी लगा दी गई और वाटर कैनन तैनात कर दी गईं।

-भीड़ को तितर-बितर करने के लिए पुलिस ने लाठीचार्ज कर दिया, जिसमें एक बच्चे के घायल होने से भीड़ और ज्यादा भड़क गई।

-बाद में बच्चे को इलाज के लिए भेजने, फोर्स हटाने और मुआवजे को लेकर एसपी सिटी के भरोसे पर भीड़ शांत हुई।

परिजनों का आरोप

-पुलिस कस्टडी में हुई विनोद की मौत को परिजन पीसीआर वैन पर तैनात तीन पुलिसकर्मियों की साजिश बता रहे हैं।

-परिजनों का कहना है, कि उसी मकान में किराए पर रहने वाला सुरेश गांजे का अवैध धंधा करता है और पुलिस उससे मोटी रकम वसूलती है।

-मृतक विनोद के परिजन 20 लाख रुपये मुआवजे की मांग कर रहे हैं।

noida-custody-3 पुलिस लाठीचार्ज में घायल बच्चा

क्या कहती है पुलिस

-थाना फेज-3 प्रभारी पंकज पंत ने बताया कि दोनों आरोपियों ने शराब पी रखी थी, जिन्हें पकड़ने के बाद मेडिकल चेकअप के लिए डिस्ट्रिक्ट हॉस्पिटल ले जाया जा रहा था।

-सेक्टर-57 के पास विनोद पीसीआर वैन से कूद गया, जिससे उसके सिर में चोट लग गई।

-एसएसपी किरण एस ने कहा कि मामले की जांच हो रही है। अगर परिजनों के आरोप सही हुए तो कार्रवाई होगी।

-पीसीआर पर तैनात पुलिसकर्मियों के खिलाफ केस दर्ज कर लिया गया है।

दो बच्चों को छोड़ गया विनोद

-सेक्टर-62 के पास ममूरा निवासी विनोद छोटी सी दुकान चलाता था, और दूसरे आरोपी सुरेश के साथ ही किराए के एक मकान में रहता था।

-विनोद अपने पीछे दो बच्चे छोड़ गया है।

Admin

Admin

Next Story