×

प्राधिकरण ने 240 डिफाल्टरों की जारी की सूची, बिल चुकाए बिना पिया पानी

तीन श्रेणियों में तीन बकायेदारों ने प्राधिकरण का 21 करोड़ 62 लाख 18 हजार 125 रुपए के पानी का प्रयोग किया। नों ने पानी का एक रुपए भी प्राधिकरण के खाते में जमा नहीं कराया। ऐसे 240 डिफाल्टरों की एक सूची प्राधिकरण ने जारी की है। जिन पर 28 करोड़ 64 लाख 47 हजार 42 रुपए पानी के बिल के रूप में बकाया है। इन डिफाल्टरों को नोटिस जारी कर प्राधिक

Anoop Ojha

Anoop OjhaBy Anoop Ojha

Published on 12 Feb 2018 1:42 PM GMT

प्राधिकरण ने 240 डिफाल्टरों की जारी की सूची, बिल चुकाए बिना पिया पानी
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

नोएडा: तीन श्रेणियों में तीन बकायेदारों ने प्राधिकरण का 21 करोड़ 62 लाख 18 हजार 125 रुपए के पानी का प्रयोग किया।तीनों ने पानी का एक रुपया भी प्राधिकरण के खाते में जमा नहीं कराया।ऐसे 240 डिफाल्टरों की एक सूची प्राधिकरण ने जारी की है।जिन पर 28 करोड़ 64 लाख 47 हजार 42 रुपए पानी के बिल के रूप में बकाया है। इन डिफाल्टरों को नोटिस जारी कर प्राधिकरण ने एक सप्ताह का समय दिया है। अन्यथा की स्थिति में प्राधिकरण इनके खिलाफ सख्त कार्यवाही करेगा।

प्राधिकरण ने डिफाल्टरोें को दो श्रेणी में बांटा है। पहला ऐसे डिफाल्टर जिनका 5 लाख रुपए से ऊपर का बकाया है।इसमे टॉप तीन आईआरपीपीएल (व्यवसायिक) पर 11 करोड़ 62 लाख 88 हजार 180 रुपए, ग्रेनाइट गेट प्रापर्टी प्राइवेट लिमिटेड 7 करोड़ 79 लाख 58 हजार 282 रुपए ,फोनेट कंस्टलटेंट प्राइवेट लिमिटेड पर 2 करोड़ 19 लाख 71 हजार 663 रुपए है। इसके अलावा पांच लाख से ऊपर कुल 22 डिफाल्टर है। जिन पर प्राधिकरण का कुल 24 करोड़ 27 लाख 56 हजार 787 रुपए है। इसके अलावा पांच लाख से कम डिफाल्टरों का कुल 4 करोड़ 36 लाख 90 हजार 255 रुपए बकाया प्राधिकरण पर है।

आकड़ों को देखे तो जल खंड-1 में कुल 156 डिफाल्टरों पर 14 करोड़ 83 लाख 53 हजार 360 रुपए बकाया है। इसके अलावा जल खंड-2 में कुल 11 डिफाल्टर है इन पर कुल 11 करोड़ 82 लाख 8 हजार 190 रुपए । इसी तरह जल खंड -3 में 73 डिफाल्टर है। जिन पर कुल 1 करोड़ 98 लाख 85 हजार 492 रुपए बकाया है। इन सभी डिफाल्टरों की एक सूची तैयार की गई है। इन सभी को नोटिस भेजे जा रहे है। एक सप्ताह का समय दिया गया है। इसके बाद प्राधिकरण इन पर कार्यवाही करेगा।

कनेक्शन लेने से अब तक का बकाया

प्राधिकरण आला अधिकारियों ने बताया कि इन लोगों ने कनेक्शन तो लिया। इसके कुछ महीने तक पानी का बिल दिया। इसके बाद बिल जमा करना बंद कर दिया गया। बताते चले कि प्राधिकरण द्वारा ऐसे बकाए दारों के लिए एक मुश्त समाधान योजना भी निकाली जाती रही। बावजूद इसके इन्होंने बिल जमा नहीं कराया। लिहाजा प्राधिकरण अब इन पर सख्ती बरतने जा रही है।

पांच लाख से ऊपर 10 बड़े बकायेदार

आईआरपीपीएल 116288180

ग्रेनाइट गेट प्रोपर्टी प्रा. लि. 77958282

फोनेट कंस्टलटेंट लि. 21971663

आम्रपाली पटेल प्लेटिनम 5898548

ईपीएफ आर्गेनाइजेशन 3451671

आरबीएस एजुकेशनल सोसाइटी 2080953

विद्या एजुकेशन फाउंडेशन 1995313

नोएडा इंपेक्स प्रा. लि. 1263696

जीटेक सप्लाइकिंग 1253904

वीनो प्रमोशन प्रा.लि. 1199974

Anoop Ojha

Anoop Ojha

Excellent communication and writing skills on various topics. Presently working as Sub-editor at newstrack.com. Ability to work in team and as well as individual.

Next Story