Top

मुलायम का वोट बैंक दरकने का कांग्रेस का दावा, PK से कहा- यादव हैं खफा

Rishi

RishiBy Rishi

Published on 28 May 2016 1:55 AM GMT

मुलायम का वोट बैंक दरकने का कांग्रेस का दावा, PK से कहा- यादव हैं खफा
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

लखनऊः इटावा समेत यूपी के तीन जिलों में मुलायम सिंह का यादव वोट बैंक क्या खिसक रहा है? कम से कम ये दावा कांग्रेस के कानपुर मंडल के कार्यकर्ताओं का है। ये कार्यकर्ता शुक्रवार को पोल स्ट्रैटेजिस्ट प्रशांत किशोर से मिले थे। इन कार्यकर्ताओं ने पीके को बताया कि मुलायम से नाराज तीन जिलों के यादवों को कांग्रेस की ओर लाने की कोशिश की जानी चाहिए।

क्या बताया कार्यकर्ताओं ने?

-इटावा, कन्नौज और फर्रुखाबाद के यादव सपा से खफा हैं।

-इसकी वजह ये है कि सिर्फ सैफई के विकास की ओर ही अखिलेश सरकार ध्यान दे रही है।

-बाकी यादव बहुल इलाकों में विकास न होने से यादवों में मुलायम के प्रति नाराजगी है।

-इसकी एक बड़ी वजह लखनऊ-आगरा एक्सप्रेस-वे भी है।

-इस एक्सप्रेस-वे से सैफई के यादवों का सबसे ज्यादा भला हुआ है।

अब जिलों के दौरे पर जाएंगे पीके

-कहा जा रहा है कि कार्यकर्ताओं के सुझावों के आधार पर प्रशांत किशोर अब कई जिलों का दौरा कर सकते हैं।

-अभी प्रशांत के दौरों की तारीख तय नहीं हुई है।

-लखनऊ में राहुल गांधी की मीटिंग की तैयारी भी करेंगे पीके।

-जून के तीसरे हफ्ते में होनी है राहुल की मीटिंग।

Rishi

Rishi

आशीष शर्मा ऋषि वेब और न्यूज चैनल के मंझे हुए पत्रकार हैं। आशीष को 13 साल का अनुभव है। ऋषि ने टोटल टीवी से अपनी पत्रकारीय पारी की शुरुआत की। इसके बाद वे साधना टीवी, टीवी 100 जैसे टीवी संस्थानों में रहे। इसके बाद वे न्यूज़ पोर्टल पर्दाफाश, द न्यूज़ में स्टेट हेड के पद पर कार्यरत थे। निर्मल बाबा, राधे मां और गोपाल कांडा पर की गई इनकी स्टोरीज ने काफी चर्चा बटोरी। यूपी में बसपा सरकार के दौरान हुए पैकफेड, ओटी घोटाला को ब्रेक कर चुके हैं। अफ़्रीकी खूनी हीरों से जुडी बड़ी खबर भी आम आदमी के सामने लाए हैं। यूपी की जेलों में चलने वाले माफिया गिरोहों पर की गयी उनकी ख़बर को काफी सराहा गया। कापी एडिटिंग और रिपोर्टिंग में दक्ष ऋषि अपनी विशेष शैली के लिए जाने जाते हैं।

Next Story