×

यश भारती और पदम एवार्ड से सम्मानित महानुभावों के पेंशन को पांच करोड़

Rishi

RishiBy Rishi

Published on 16 Feb 2018 3:56 PM GMT

यश भारती और पदम एवार्ड से सम्मानित महानुभावों के पेंशन को पांच करोड़
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

लखनऊ : योगी सरकार ने यश भारती और पदम एवार्ड से सम्मानित महानुभावों को पेंशन के लिए पांच करोड़ रूपये की धनराशि का प्रावधान किया है। ऐसे महानुभावों के लिए यह बजट ठंडी हवा सरीखे सा है क्योंकि प्रदेश में सत्ता बदलते ही सीएम योगी आदित्यनाथ सरकार ने यश भारती सम्मान पाए महानुभावों की पेंशन पर रोक लगा दी थी। हालांकि सन 2017-18 के बजट में इसके लिए 9.50 करोड़ का प्रावधान किया गया था।

प्रदेश में यश भारती सम्मान मुलायम सिंह यादव सरकार ने 1994 में शुरू किया था। यह सम्मान राज्य से ताल्लुक रखने वाले ऐसे लोगों को दिया जाता है, जिन्होंने कला, संस्कृति, साहित्य या खेलकूद के क्षेत्र में प्रदेश का नाम रोशन किया हो। पुरस्कार राशि के तौर पर 11 लाख रुपये के अलावा उम्र भर 50 हजार रुपये की पेंशन भी मिलती है।

अब तक यह सम्मान अमिताभ बच्चन, हरिवंश राय बच्चन, अभिषेक बच्चन, जया बच्चन, ऐश्वर्या राय बच्चन, शुभा मुद्गल, रेखा भारद्वाज, रीता गांगुली, कैलाश खेर, अरुणिमा सिन्हा, नवाज़ुद्दीन सिद्द़ीकी़, नसीरूद्दीन शाह, रविंद्र जैन, भुवनेश्वर कुमार जैसी हस्तियों को मिल चुका है।

Rishi

Rishi

आशीष शर्मा ऋषि वेब और न्यूज चैनल के मंझे हुए पत्रकार हैं। आशीष को 13 साल का अनुभव है। ऋषि ने टोटल टीवी से अपनी पत्रकारीय पारी की शुरुआत की। इसके बाद वे साधना टीवी, टीवी 100 जैसे टीवी संस्थानों में रहे। इसके बाद वे न्यूज़ पोर्टल पर्दाफाश, द न्यूज़ में स्टेट हेड के पद पर कार्यरत थे। निर्मल बाबा, राधे मां और गोपाल कांडा पर की गई इनकी स्टोरीज ने काफी चर्चा बटोरी। यूपी में बसपा सरकार के दौरान हुए पैकफेड, ओटी घोटाला को ब्रेक कर चुके हैं। अफ़्रीकी खूनी हीरों से जुडी बड़ी खबर भी आम आदमी के सामने लाए हैं। यूपी की जेलों में चलने वाले माफिया गिरोहों पर की गयी उनकी ख़बर को काफी सराहा गया। कापी एडिटिंग और रिपोर्टिंग में दक्ष ऋषि अपनी विशेष शैली के लिए जाने जाते हैं।

Next Story