×

छूटने न पाए हेल्थ वर्कर्स और कोरोना वारियर्स की दूसरी डोज: योगी आदित्यनाथ

सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि हेल्थ वर्कर्स तथा कोरोना वाॅरियर्स को दूसरी डोज लगाने का काम किया जाए।

Shreedhar Agnihotri
Updated on: 7 Jun 2021 5:01 PM GMT
Preparations for a big meeting are going on in full swing at the Chief Ministers residence in the capital Lucknow
X

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की फाइल तस्वीर (फोटो साभार-सोशल ​मीडिया)

  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

लखनऊ: मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि हेल्थ वर्कर्स तथा कोरोना वाॅरियर्स के वैक्सीन का पहला डोज प्राप्त करने वाले कोरोना वाॅरियर्स तथा हेल्थ वर्कर्स को दूसरी डोज लगाने का काम किया जाए। उन्होंने कहा जिन्होंने दूसरी डोज नहीं ली है इसके कारणों का पता लगाकर हेल्थ वर्कर्स तथा कोरोना वाॅरियर्स को द्वितीय डोज लेने के लिए प्रेरित किया जाए, जिससे कोरोना संक्रमण से उनकी पूरी तरह से सुरक्षा हो सके।

योगी आदित्यनाथ ने कहा कि किसी भी राजकीय कर्मी की मृत्यु की स्थिति में उसके आश्रितों को अनुमन्य सभी सुविधाएं नियमानुसार उपलब्ध कराई जाएं। इस सम्बन्ध में कोई शिथिलता न बरती जाए और न ही कोई प्रकरण लम्बित रहना चाहिए। उन्होंने कहा कि हेल्थ वर्कर्स तथा कोरोना वाॅरियर्स की मृत्यु की स्थिति में अनुमन्य सभी सुविधाएं सम्बन्धित के आश्रितों को तत्काल सुलभ कराई जाए। ऐसे मामलों में कार्यवाही लंबित रखने वालों के विरुद्ध सख्त कार्रवाई की जाए।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि ऐसे निराश्रित बच्चों, जिनके माता-पिता अथवा विधिक अभिभावक का निधन कोरोना संक्रमण के कारण हो गया है, उनके पालन-पोषण व शिक्षा-दीक्षा के लिए राज्य सरकार द्वारा उत्तर प्रदेश मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना के अंतर्गत अनेक कल्याणकारी प्राविधान किए गए हैं। उन्होंने कहा कि इस योजना को पूरी गंभीरता एवं संवेदनशीलता के साथ संचालित किया जाए। सभी पात्र बच्चों को योजना का लाभ सुलभ कराया जाए। इसमें कोई शिथिलता नहीं बरती जानी चाहिए।

मुख्यमंत्री ने कहा कि किसानों को अपनी उपज बेचने में कोई परेशानी नहीं होनी चाहिए। प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना के तहत निःशुल्क खाद्यान्न वितरण का कार्य पारदर्शी ढंग से सम्पन्न कराया जाए। सभी पात्र व्यक्तियों को अनुमन्य मात्रा में खाद्यान्न मिल जाना चाहिए। उन्होंने कहा कि खाद्यान्न वितरण ई-पॉस मशीनों के माध्यम से किया जा रहा है। इसलिए राशन की दुकानों पर सैनिटाइजर की आवश्यक रूप से व्यवस्था की जानी चाहिए। औद्योगिक गतिविधियां सुचारू रूप से संचालित रहे। बारिश में पशुओं में होने वाली बीमारियों को देखते हुए उपचार की प्रभावी व्यवस्था सुनिश्चित की जाए।

मुख्यमंत्री ने कहा कि स्वच्छता, सैनिटाइजेशन तथा फाॅगिंग की कार्यवाही सक्रियता से संचालित की जाए। एकत्र होने वाले कूड़े तथा नाले-नालियों के सिल्ट का समुचित निस्तारण किया जाए। वृहद पौधारोपण अभियान को प्रभावी ढंग से सम्पन्न करने के लिए सभी सम्बन्धित विभागों द्वारा व्यापक कार्य योजना बनाई जाए। पौधारोपण के दौरान एक्सप्रेस-वे के किनारों पर बड़ी संख्या में पौधों का रोपण किया जाए।

Raghvendra Prasad Mishra

Raghvendra Prasad Mishra

Next Story