×

ग्रेटर नोएडा को स्मार्ट सिटी बनाने पर दिया जाए जोर : सीएम योगी

यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ ने शुक्रवार को ग्रेटर नोएडा में तीनों प्राधिकरण की समीक्षा बैठक में स्मार्ट सिटी बनाए जाने पर जोर दिया। उन्होंने मीटिंग के दौरान स्पष्ट तौर पर कहा कि नोएडा व ग्रेटर नोएडा का विकास स्मार्ट सिटी के रूप में किया जाए।

Aditya Mishra

Aditya MishraBy Aditya Mishra

Published on 14 Jun 2019 4:02 PM GMT

ग्रेटर नोएडा को स्मार्ट सिटी बनाने पर दिया जाए जोर : सीएम योगी
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

नोएडा: यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ ने शुक्रवार को ग्रेटर नोएडा में तीनों प्राधिकरण की समीक्षा बैठक में स्मार्ट सिटी बनाए जाने पर जोर दिया। उन्होंने मीटिंग के दौरान स्पष्ट तौर पर कहा कि नोएडा व ग्रेटर नोएडा का विकास स्मार्ट सिटी के रूप में किया जाए। जिसमें हाई क्लास की सिक्योरिटी के साथ इंटीग्रेटेड ट्रैफिक मैनेजमेंट की व्यवस्था की जाए।

इसके साथ ही ईको-फ्रेंडली विकास पर ध्यान दिया जाए जिससे भविष्य को पर्यावरण के अनूकुल बनाया जा सके। उन्होंने स्मार्ट सिटी के साथ समावेशी विकास की बात करते हुए गांवों के विकास पर जोर दिया।

इसके लिए उन्होंने तीनों प्राधिकरण में स्मार्ट सिटी की तर्ज पर स्मार्ट विलेज बनाने के निर्देश दिए। जिससे गांवों में भी लोगों को शहर जैसी सुविधाएं मिल सकें।

ये भी पढ़ें...तस्वीरें: सीएम योगी ने की DM/SP के संग कानून व्यवस्था की संयुक्त बैठक

हिंडन नदी की दयनीय स्थिति पर जताई चिंता

समीक्षा बैठक के दौरान सीएम योगी आदित्यनाथ ने हिंडन नदी की दयनीय स्थिति पर काफी चिंता जताई। दरअसल, हिंडन नदी में नोएडा-गाजियाबाद में ऑक्सीजन की मात्रा पिछले 3 साल से शून्य रही है। ऐसे में जीव-जंतु के लिए हानिकारक होने के साथ इससे भूजल भी दूषित हो रहा है। इस संबंध में रिपोर्ट आने पर सीएम ने नदी को जीर्णोद्धार के लिए निर्देशित किया। उन्होंने कहा कि इसके लिए सभी विभाग हर संभव प्रयास करें।

स्थानीय लोगों के कौशल विकास पर ध्यान दें

सीएम योगी आदित्यनाथ ने मीटिंग के दौरान तीनों प्राधिकरण के बढ़ते खर्च पर भी आपत्ति जताई। उन्होंने कहा कि तीनों प्राधिकरण खर्च को कम करे और आय को बढ़ाने पर जोर दे। इसके साथ ही कंपनियों के सीएसआर की मदद से स्थानीय लोगों के कौशल विकास पर ध्यान दिया जाए। इसके साथ लोगों को नौकरी देने के लिए उन्हें ट्रेनिग के साथ पूरा मौका दिया जाए। जिससे रोजगार के साधन में बढ़ोतरी हो सके।

नोएडा के मेट्रो स्टेशनों के नाम में सेक्टर के साथ गांव का नाम भी जुड़े

इस मीटिंग के दौरान स्थानीय विधायक पंकज सिंह ने मेट्रो स्टेशनों के नाम सिर्फ सेक्टर पर होने का मुद्दा उठाया। इसके साथ ही उन्होंने सुझाव दिया िक सेक्टर के साथ आसपास के गांव के नाम को भी जोड़ा जाए। इससे स्थानीय लोगों को मेट्रो स्टेशन से उनकी गांव तक के बारे में आसानी से जानकारी मिल सकेगी। इसके अलावा नोएडा के चाइल्ड सुपर स्पेशियलिटी अस्पताल में मरीजों की संख्या में आ रही कमी को लेकर भी डीएम से रिपोर्ट मांगी गई है।

ये भी पढ़ें...सुप्रीम कोर्ट का आदेश, पत्रकार प्रशांत को फौरन रिहा करे योगी सरका

शाहबेरी के फ्लैट बायर्स ने आशियाना बचाने के लिए मुख्यमंत्री से लगाई गुहार

ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण कार्यालय में शुक्रवार को समीक्षा करने आए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से शाहबेरी के फ्लैट बायर्स ने अपना घर बचाने के लिए गुहार लगाई। प्राधिकरण कार्यालय के सामने बड़ी संख्या में जमा हुए फ्लैट बायर्स ने धरना प्रदर्शन किया और मुख्यमंत्री से मिलने का समय मांगा।

इसे गंभीरता से लेते हुए तीन सदस्यीय प्रतिनिधिमंडल को मुख्यमंत्री से मिलने का समय दिया गया। यहां आए लोगों ने आरोप लगाया कि अधिकारियों की मिलीभगत से ही शाहबेरी में अवैध निर्माण किए गए थे। मगर अब उसे तोड़ने का आदेश जारी किया गया है जिसमें बायर्स की क्या गलती है। लोगों ने रजिस्ट्री कराकर फ्लैट खरीदे हैं और लोन भी पास हुआ है। ऐसे में बायर्स के लिए सही रास्ता निकाला जाए और दोषी अधिकारियों पर कार्रवाई की जाए।

ये भी पढ़ें...गोरखनाथ मंदिर में 15 जून से लगेगा योग शिविर, सीएम योगी भी हो सकते हैं शामिल

Aditya Mishra

Aditya Mishra

Next Story