×

बुलडोजर से हिले सपा नेता: गिरा दिया गया लखनऊ में ठिकाना, योगी का सरकार का एक्शन

Lucknow News: लखनऊ के मोहनलालगंज स्थित मानखेड़ा गांव में मंगलवार दोपहर प्रशासन का बुलडोजर सपा नेता के ठिकाने पहुंच कर उसे गिरा दिया।

Shiva Sharma
Updated on: 24 May 2022 4:36 PM GMT
Lucknow News in Hindi
X

सपा नेता के ठिकाने पर चलता बुलडोजर। 

  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

Lucknow: लखनऊ के मोहनलालगंज स्थित मानखेड़ा गांव में मंगलवार दोपहर प्रशासन का बुलडोज़र सपा नेता के ठिकाने पहुंच कर उसे नेस्तोनाबूत करने के लिए खड़ा हो गया। इलाके में अराजकता न हो इसलिए भारी पुलिस बल भी मौके पर साथ देने वहां की कानून व्यवस्था के लिए मुस्तैद था।

सपा नेता के ठिकानों पर चला बुलडोज़र

जानकारी के मुताबिक वर्तमान में सामाजवादी पार्टी (Samajwadi Party) से जिला पंचायत सदस्य अरुण यादव (District Panchayat member Arun Yadav) के इसी ठिकाने पर एसटीएफ व स्थानीय पुलिस की टीम ने मिलकर छापेमारी की थी जिसमें चोरी किया हुआ कई हज़ार लीटर पेट्रोल-डीज़ल व एथनॉल और उससे सम्बंधित मशीने मिली थी। एसटीएफ की इस छापेमारी के दौरान वहा मौजूद लोगों ने पुलिसकर्मियो पर गाडी चढ़ाकर मारने का प्रयास भी किया था और मौके से कई लोग फरार हो गए थे।

पुलिस ने दबिश के दौरान 2 लोगों को किया गिरफ्तार

पुलिस ने दबिश के दौरान उस वक्त 2 लोग मोहम्मद मोहसिन व निर्मल यादव उर्फ़ सुबह यादव को गिरफ्तार करते हुए बड़े रैकेट का पर्दाफाश किया था एसटीएफ के मुताबिक सपा नेता अरुण यादव (SP Leader Arun Yadav) अपने गिरोहग के साथ मिलकर तेल चोरी का बड़ा कारोबार करता था, जिसके बाद दुसरे ही दिन अरुण यादव व उसका साथी धीरज सिंह गिरफ्तार हो गया, बाकी अन्य लगो की तलाश जारी है | जिला प्रशासन ने मानखेड़ा के उस ठिकाने की जमीन की जांच कराई तो पता चला जिस ढाई भीगा जमीन पर सत्ता नेता अपना कार्यालय चलता था वो ज़मीन सरकारी ज़मीन थी। ऐसे में वो कई सालों से कब्ज़ा कर उसमें अपना हक जमा बैठा था जिसे आज बुलडोजर की मदद से धराशाही कर दिया गया और जिला प्रशासन ने उसे अपने कब्जे में ले लिया।


जिस जमीन पर चला बुलडोज़र उसी जमीन पर करता था काला कारोबार

पुलिस के मुताबिक अरुण यादव के जिस थाने पर छापेमारी हुई थी और जहा से चोरी माल समेत 2 लोग गिरफ्तार हुए थे उसी ज़मीन पर अरुण अपने साथियो के साथ काला कारोबार करता था और अपराध की दुनिया में अपना नाम चलाता था पुलिस के मुताबिक जिन कमरों को बुलडोज़र के ज़रिये धराशाही किया गया है उसमे सापोआ नेता ने अपना कार्यालय भी बना रखा था।


पुलिस पर हमला करने वाले अब तक सिर्फ 4 लोग गिरफ्तार

मोहनलालगंज पुलिस (Mohanlalganj Police) की माने तो अब तक इस मामले में मुख्य आरोपी अरुण यादव समेत धीरज सिंह, मोहम्मद मोहसिन व निर्मल यादव उर्फ़ सौरभ यादव गिरफ्तार हुए है। अभी भी पुलिस की टीम पर हमला करने वाले तकरीबन आधा दर्जन लोग पुलिस की गिरफ्त से दूर है और हमले मामले में ही एसटीएफ की टीम ने मोहनलालगंज कोतवाली में इन लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई थी |

Deepak Kumar

Deepak Kumar

Next Story