×

योगी सरकार ने कसी कमर: 2.5 लाख लीटर वैक्सीन स्टोरेज तैयार, ऐसे होगा वैक्सीनेशन

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कोरोना वैक्सीन की सुरक्षित स्टोरेज तथा कोल्ड चेन के सम्बन्ध में फूलप्रूफ व्यवस्था करने को कहा है। प्रदेश में कोरोना वैक्सीन की स्टोरेज के लिए 35,000 केन्द्र स्थापित किए जाएंगे।

Newstrack
Published on: 19 Dec 2020 11:29 AM GMT
योगी सरकार ने कसी कमर: 2.5 लाख लीटर वैक्सीन स्टोरेज तैयार, ऐसे होगा वैक्सीनेशन
X
योगी सरकार ने कसी कमर: 2.5 लाख लीटर वैक्सीन स्टोरेज तैयार, ऐसे होगा वैक्सीनेशन
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

श्रीधर अग्निहोत्री

लखनऊ: प्रदेश में 2.5 लाख लीटर वैक्सीन की भण्डारण क्षमता सृजित हो गई है। वैक्सीनेशन कार्य के लिए 06 करोड़ सिरिंज की आवश्यकता होगी। अब तक 4.5 करोड़ सिरिंज का आवंटन कर दिया गया है। कोरोना वैक्सीन आने के पहले तैयारियों में लगी हुई है। इसके स्टोरेज से लेकर टीकाकरण तक के लिए तैयारियां चल रही हैं। राज्य सरकार के फैसले के अनुसार एक वैक्सीनेशन टीम द्वारा प्रतिदिन 100 लोगों का टीकाकरण किया जाएगा। प्रत्येक वैक्सीनेशन टीम के साथ एक पुलिस कांस्टेबल तथा एक होमगार्ड की ड्यूटी लगाई जाएगी। जिस व्यक्ति को टीका लगाया जाएगा उसके फोन पर टीका लगाने का समय, स्थान व दिनांक सूचित किया जाएगा। टीकाकरण के पश्चात सम्बन्धित व्यक्ति को वैक्सीनेशन सेन्टर पर 30 मिनट रुकना होगा। प्रदेश में कोरोना वैक्सीन की स्टोरेज के लिए 35,000 केन्द्र स्थापित किए जाएंगे।

वैक्सीन के स्टोरेज सेन्टर में सभी आवश्यक प्रबन्ध के निर्देश

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कोरोना वैक्सीन की सुरक्षित स्टोरेज तथा कोल्ड चेन के सम्बन्ध में फूलप्रूफ व्यवस्था करने को कहा है। उन्होंने कहा है कि कोविड-19 वैक्सीन के स्टोरेज सेन्टर में सभी आवश्यक प्रबन्ध सुनिश्चित किए जाएं। उन्होंने कोरोना वैक्सीनेशन कार्य को ध्यान में रखते हुए बायोमेडिकल वेस्ट के समुचित निस्तारण की व्यवस्था करने को भी कहा गया हैं।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ आज यहां कोरोना वैक्सीनेशन के सम्बन्ध में की जा रही व्यवस्थाओं की समीक्षा कर रहे थे। उन्होंने निर्देश दिए कि कोरोना वैक्सीन सेन्टर में वैक्सीन लगने के बाद सम्बन्धित व्यक्ति के लिए कुछ समय रुकने की भी व्यवस्था की जाए। उन्होंने वैक्सीन सेन्टर पर सुरक्षा के व्यापक इन्तजाम सुनिश्चित करने के निर्देश भी दिए।

ये भी देखें: फाइलेरिया उन्मूलन: शुरू होगा मास ड्रग एडमिनिस्ट्रेशन कार्यक्रम, यहां लें पूरी जानकारी

वैक्सीन लगाने के लिए वैक्सीनेटर्स की तैयारी तेज़

मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश में कोविड-19 का टीकाकरण कार्य निर्धारित टाइम लाइन के अनुसार सम्पन्न किया जा सके, इसके लिए आवश्यक है कि पर्याप्त संख्या में वैक्सीनेटर्स की उपलब्धता रहे। जनपद स्तर पर प्रशिक्षण कार्यक्रम प्रारम्भ हो गये हैं। उन्होंने वैक्सीन लगाने के लिए वैक्सीनेटर्स को तैयार करने का कार्य पूरी तेजी से संचालित करने को कहा हैं।

ज्ञातव्य है कि कोरोना वैक्सीन की मानकों के अनुरूप स्टोरेज के लिए आईसलैण्ड रेफ्रिजरेटर तथा डीपफ्रीजर भारत सरकार द्वारा उपलब्ध कराए जा रहे हैं। प्रदेश में 2.5 लाख लीटर वैक्सीन की भण्डारण क्षमता सृजित हो गई है। वैक्सीनेशन कार्य के लिए 06 करोड़ सिरिंज की आवश्यकता होगी। अब तक 4.5 करोड़ सिरिंज का आवंटन कर दिया गया है।

cm yogi

ये भी देखें: माध्यमिक शिक्षा परिषद् शताब्दी समारोह, भारत की ये दिग्गज हस्तियां होंगी शामिल

बैठक में अन्य वरिष्ठ अधिकारी भी उपस्थित थे

बैठक में स्वास्थ्य राज्य मंत्री अतुल गर्ग, मुख्य सचिव आरके तिवारी, अवस्थापना एवं औद्योगिक विकास आयुक्त आलोक टण्डन, कृषि उत्पादन आयुक्त आलोक सिन्हा, अपर मुख्य सचिव गृह श्री अवनीश कुमार अवस्थी, पुलिस महानिदेशक हितेश सी अवस्थी, अपर मुख्य सचिव राजस्व श्रीमती रेणुका कुमार, अपर मुख्य सचिव वित्त संजीव मित्तल, अपर मुख्य सचिव एमएसएमई तथा सूचना नवनीत सहगल, अपर मुख्य सचिव पंचायतीराज एवं ग्राम्य विकास मनोज कुमार सिंह, अपर मुख्य सचिव मुख्यमंत्री एसपी गोयल, अपर मुख्य सचिव स्वास्थ्य अमित मोहन प्रसाद, प्रमुख सचिव स्वास्थ्य आलोक कुमार, सचिव मुख्यमंत्री आलोक कुमार, सूचना निदेशक शिशिर सहित अन्य वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।

दोस्तों देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

Newstrack

Newstrack

Next Story