×

UP में किसानों को तोहफा: योगी सरकार जल्द देगी बड़ी सौगात, यहां जाने पूरी डिटेल

Yogi Sarkar: किसानों को उनकी फसल का और बेहतर मूल्य मिलेगा और बिचौलियों के जाल से मुक्ति मिल सकेगी। प्रदेश सरकार एक वर्ष में विकासखंडवार 825 एफपीओ स्थापित करने जा रही है।

Rahul Singh Rajpoot
Updated on: 11 April 2022 1:19 PM GMT
Yogi government will give gift to farmers, FPO will be established in all 825 blocks
X

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ बैठक करते हुए: Photo - Social Media

  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

Lucknow: योगी सरकार (Yogi Sarkar) किसानों को बड़ी सुविधा देने जा रही है। इससे किसानों को उनकी फसल का और बेहतर मूल्य मिलेगा और बिचौलियों के जाल से मुक्ति मिल सकेगी। प्रदेश सरकार (UP Government) एक वर्ष में विकासखंडवार 825 एफपीओ स्थापित करने जा रही है। इसके लिए 354.75 करोड़ रुपये बजट का प्रावधान किया गया है। इससे प्रदेश के 4 लाख किसानों (farmers) को लाभ पहुंचेगा। साथ ही 100 दिनों में प्रत्येक विकासखंड में एक विशेष फसल का चुनाव किया जाएगा।

क्या है एफपीओ योजना (FPO Scheme)

दूसरी बार कुर्सी संभालते ही योगी सरकार किसानों की आर्थिक स्थिति को सुधारने में जुट गई है। वर्ष 2022-23 में प्रदेश सरकार विशिष्ट एफपीओ योजना (FPO Scheme) के तहत 825 एफपीओ स्थापित करने जा रही है। संगठित खेती करने से किसानों को उनके उपज की और बेहतर कीमत मिल सकेगी। एफपीओ यानी किसान उत्पादक संगठन (किसान उत्पादक कंपनी) किसानों का एक समूह है, जो कृषि उत्पादन करता हो और खेती-किसानी से जड़ी व्यावसायिक गतिविधियां भी चलाएगा।

सामूहिक खेती को बढ़ावा मिलेगा

एफपीओ के माध्यम से सामूहिक खेती को बढ़ावा मिलेगा और किसानों को अपनी फसल बेचने के लिए बाजार आसानी से उपलब्ध होगा। एफपीओ के तहत संगठित रूप से खेती करने के लिए सरकार सहायता भी उपलब्ध कराएगी। जिससे एक साथ खाद, बीज, दवाइयां और कृषि उपकरण खरीदने में आसान होगी। इसके अलावा प्रासेसिंग यूनिट और स्टोरेज की व्यवस्था की जा सकती है और फसल की अच्छी कीमत प्राप्त की जा सकती है।

एफपीओ व्यवस्था में बिचौलियों की छुट्टी

अगर किसान अकेले अपनी फसल को बेचने जाता है तो उसका फायदा बिचौलिया उठाता है। एफपीओ व्यवस्था में बिचौलिये नहीं होंगे, इसलिए किसानों को उनके उत्पाद की अच्छी कीमत मिलेगी। इससे किसानों की शक्ति भी बढ़ेगी। इसके साथ ही प्रदेश सरकार 100 दिनों में हर विकासखंड के लिए विशेष फसल का चयन करने जा रही है, जिसकी खेती को बढ़ावा दिया जाएगा।

taza khabar aaj ki uttar pradesh 2022, ताजा खबर आज की उत्तर प्रदेश 2022


Next Story