Top

257 मस्जिद-मदरसों पर योगी सरकार का बड़ा फैसला, दिया ये आदेश

योगी सरकार ने यूपी में इंडो-नेपाल सीमा से सटे जिलों में बड़े स्तर पर टेरर फंडिंग की सूचना के बाद जांच के आदेश दिए हैं।

Roshni Khan

Roshni KhanBy Roshni Khan

Published on 7 March 2020 10:24 AM GMT

257 मस्जिद-मदरसों पर योगी सरकार का बड़ा फैसला, दिया ये आदेश
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

लखनऊ: योगी सरकार ने यूपी में इंडो-नेपाल सीमा से सटे जिलों में बड़े स्तर पर टेरर फंडिंग की सूचना के बाद जांच के आदेश दिए हैं। खबर आ रही है कि सीमा से सटे 257 मस्जिद-मदरसों में टेरर फंडिंग का अंदाजा लगाया जा रहा है, जिसके बाद से ही इन मस्जिद-मदरसों पर खुफिया विभाग की नजर है। इस पर योगी सरकार ने उत्तर प्रदेश शासन की रिपोर्ट के बाद एडीजी जोन, गोरखपुर ने निगरानी के आदेश दिए हैं। अब संदिग्ध स्थानों की सूची बनाकर पुलिस नजर रख रही है।

आपको बता दें यूपी के कुशीनगर, महराजगंज, बहराइच, बलरामपुर और श्रावस्ती जिलों की सीमा नेपाल से सटी है। अचानक से बड़ी संख्या में मस्जिद, मदरसे सामने आए हैं, जिसके बाद हड़कंप मचा हुआ है।

ये भी पढ़ें:International Women’s Day पर दिखा Mithali Raj का एक अलग अंदाज़

अपने नेटवर्क के प्रचार-प्रसार में पीएफआई कर रहा इस्तेमाल

दिसंबर के महीने में यूपी के अलग-अलग जिलों में CAA और NRC के खिलाफ हिंसक प्रदर्शन में PFI का नाम सामने आने के बाद यूपी पुलिस PFI से जुड़े लोगों की लिस्ट तैयार कर रही थी। उस दौरान भी नेपाल सीमा से सटे बहराइच का नाम प्रमुखता से सामने आया था। अपने नेटवर्क के प्रचार-प्रसार में PFI धार्मिक स्थलों का इस्तेमाल कर रहा है। हाल ही में नई दिल्ली में हुई हिंसा के बाद IB ने भी यूपी सरकार को एक खुफिया इनपुट दिया है, जिसके मुताबिक यूपी की नेपाल सीमा से सटे हुए 257 मस्जिद मदरसों पर नजर रखने को कहा गया है। इन जगहों पर टेरर फंडिंग की आशंका जताई गई है। इस इनपुट के बाद गोरखपुर जोन के कई जिलों में पुलिस और खुफिया ने अपनी सक्रियता बढ़ा दी है।

ये भी पढ़ें:नेता की बेटी के प्रेम विवाह पर बवाल, फिर हुआ एक वीडियो वायरल

जिले में नए अमीरों पर नजर

मिली जानकारी के अनुसार कुशीनगर, बहराइच, महाराजगंज ,सिद्धार्थनगर, बलरामपुर और श्रावस्ती में मस्जिद मदरसों की इंतजामिया कमेटी से जुड़े हुए लोग और इन धार्मिक स्थलों की फंडिंग से जुड़ी हुई डिटेल खुफिया तौर पर जुटाई जा रही है। ये भी ताकीद की गई है कि इन इलाकों में नए अमीरों पर भी नजर रखी जाए और ये पता किया जाए कि आखिर इनके पास पैसा कहां से आ रहा है? नेपाल सीमा से सटे हुए जिले हमेशा से ही संवेदनशील रहे हैं क्योंकि भारत नेपाल सीमा के बीच में आराम से आवाजाही हो जाती है। वैसे तो यूपी सरकार ने बॉर्डर के इन जिलों में अच्छी सड़कें बनाकर पुलिस और सशस्त्र सीमा बल के समन्वय की बात लगातार कही है।

दोस्तों देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

Roshni Khan

Roshni Khan

Next Story