×

बिल्डर्स को योगी की चेतावनी: 3 माह में ग्राहकों को दें घर, नहीं तो होगी कार्रवाई

Gagan D Mishra

Gagan D MishraBy Gagan D Mishra

Published on 12 Sep 2017 12:02 PM GMT

बिल्डर्स को योगी की चेतावनी: 3 माह में ग्राहकों को दें घर, नहीं तो होगी कार्रवाई
X
BHU मामले पर योगी बोले- बाहरी लोगों ने फैलाई हिंसा, फेहरिस्त मेरे पास
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

लखनऊ: नोएडा में महीनों से चल रहे बिल्डर और बायर्स की बीच चल रहे विवाद की बीच आज अपने आशियाने की आस लगाए ग्राहकों के लिए अच्छी खबर आई। योगी सरकार ने आखिरकार बिल्डर्स और बायर्स के साथ बैठक कर बीच अक राष्ट निकलते हुए तीन माह में ग्राहकों को उनके फ्लैट तीन महीने के अन्दर देने को कहा है । जो बिल्डर्स आवंटन समय पर नहीं करेंगे, सरकार उन पर कड़ी कार्रवाई करेगी।

यह भी पढ़ें...बिल्डर्स को सरकार का झटका, पहले दो कंपलीशन रिपोर्ट तब मिलेगा बकाया

मीटिंग में सीएम योगी ने कहा है कि बिल्डर तीन माह में 50 हज़ार फ्लैट पूरे करा कर ग्राहकों को दें। यह काम नोएडा, ग्रेटार नोएडा एक्सप्रेस वे अथॉरिटी के अधिकारियो को बिल्डर से बातचीत करा कर करना है।

सूबे के सीएम योगी आदित्यनाथ ने मुख्यमंत्री कार्यालय में मीटिंग बुलाई जिसमे इसमें वरिस्थ मंत्रियो की एक कमेटी जिनमे नगर विकास मंत्री सुरेश खन्ना, औद्योगिक विकास मंत्री सतीश महाना और गन्ना विकास मंत्री सुरेश राणा थे , सम्बंधित विधायक, नोएडा, ग्रेटर नोएडा, यमुना एक्सप्रेस-वे ऑथारिटी के चेयरमैन और सीईओ, गौतमबुद्ध नगर के डीएम शामिल मौजूद थे।

यह भी पढ़ें...इलाहाबाद हाईकोर्ट का आदेश, सुपरटेक बिल्डर्स के 1,064 अवैध फ्लैट रहेंगे सील

कमेटी में शामिल कैबिनेट मंत्री सुरेश खन्ना ने बताया, सीएम योगी ने ये निर्णय लिया है कि 50 हजार बॉयर्स को मकान पूरा करके बिल्डर तीन महीने के भीतर कब्जा दिलाएं। इसके अलावा तीनों अथॉरिटी अपने-अपने क्षेत्रों में बिल्डर्स-बॉयर्स विवाद को निपटाने के लिए एक्सपर्ट एजेंसी तय करें। इसके लिए एक महीने का वक्त लगेगा। उसके बाद दो महीने में ये एजेंसी रिपोर्ट देगी, इसको हम आगे बढ़ाएंगे।

खन्ना ने बताया, सबसे पहले बॉयर्स को घर दिलाने का काम होगा। उन लोगों को कब्जा हर हाल में तीन महीने के भीतर दिलाना होगा। उन्होंने कहा कि बैठक में बड़े-बड़े बिल्डर्स इस बैठक में शामिल हुए थे। सभी ने सहमति दी है कि तीन महीने के भीतर इन लोगों को उनके घर का पजेशन मिल जाएगा।

यह भी पढ़ें...योगी सरकार की टेढ़ी नजर अब यमुना एक्सप्रेस-वे पर, 6 बिल्डर्स के 17 प्रोजेक्ट्स रद्द किए

मंत्री ने कहा कि अगर कोई बिल्डर तीन महीने के भीतर अपने निवेशकों को पजेशन नहीं देता है, तो उस पर रेरा से पहले आईपीसी की धारा लगाकर कार्रवाई की जाएगी।

Gagan D Mishra

Gagan D Mishra

Next Story