Top

प्रदर्शनकारियों के डर से होटल में छिपा, वहां भी नहीं बख्शा, लगा दी आग

Admin

AdminBy Admin

Published on 24 Feb 2016 2:49 PM GMT

प्रदर्शनकारियों के डर से होटल में छिपा, वहां भी नहीं बख्शा, लगा दी आग
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

मुज़फ्फरनगर : हरियाणा में जाट आरक्षण को लेकर की गई हिंसा की आंच से मुज़फ्फरनगर भी अछूता नहीं रहा। यहां के लोगों ने जाट आंदोलन को पूरा समर्थन दिया। लेकिन उन्हें क्या पता था कि इस आग में उनके घर का लाल ही झुलस जाएगा। मुज़फ्फरनगर का कुलदीप सोनीपत में रहकर नौकरी करता था। 21 फ़रवरी को काम से लौटते समय प्रदर्शनकारियों ने उसे आग लगा दी थी, जिससे उसकी मौत हो गई।

muzzafar--1

नाइट ड्यूटी से लौट रहा था युवक

मामला हरियाणा के सोनीपत जिले के गांव बालगढ़ का है। 22 वर्षीय युवक कुलदीप पुत्र धारा सिंह निवासी सराय थाना फुगाना कई वर्षों से अपनी बहन के पास रहकर एक कंपनी में नौकरी करता था। 21 फ़रवरी को वह नाइट ड्यूटी कर अपने घर लौट रहा था। रास्ते में प्रदर्शनकारियों से डरकर मुरथल रोड स्थित जुरासिक पार्क होटल में अपनी जान बचाने को घुस गया। प्रदर्शनकारियों ने उसमें तोड़-फोड़ कर आग लगा दी।

muzzafar---5

शव रखकर लगाया जाम

मृतक के शव को परिजनों ने मेरठ-करनाल मार्ग पर रखकर जाम लगाया। तीन घंटे तक लगाए जाम से यात्रियों को काफी परेशानी हुई। बाद में सीओ द्वारा पीड़ित परिवार को मदद के आश्वासन के बाद जाम खोला गया।

muzzaf--3

परिजनों ने की जांच की मांग

परिजनों का आरोप है कि शव खिड़की पर लटका मिला जबकि कपड़े, बाल और मोबाइल जले हुए नहीं मिले। ऐसे में युवक की मौत जांच का विषय है।

Admin

Admin

Next Story