×

Zila Panchayat Adhyaksh Election Results: महोबा में बीजेपी उम्मीदवार की हुई जीत,सपा ने प्रशासन पर लगाया पक्षपात का आरोप

महोबा जिले में जिला पंचायत अध्यक्ष का चुनाव प्रशासन की कड़ी सुरक्षा के बीच हुआ।

Imran Khan

Imran KhanReport Imran KhanDivyanshu RaoPublished By Divyanshu Rao

Published on 3 July 2021 2:23 PM GMT

Zila Panchayat Adhyaksh Election Results: महोबा में बीजेपी उम्मीदवार की हुई जीत,सपा ने प्रशासन पर लगाया पक्षपात का आरोप
X

बीजेपी के नवनिर्वाचित जिला पंचायत अध्यक्ष जयप्रकाश अनुरागी-फोटो सोशल मीडिया

  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

Zila Panchayat Adhyaksh Election Results: उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के महोबा जिले में जिला पंचायत अध्यक्ष का चुनाव प्रशासन की कड़ी सुरक्षा के बीच हुआ। जिला पंचायत अध्यक्ष चुनाव का मतदान कलेक्ट्रेट परिसर में शातिं पूर्ण तरीके से संम्पन्न हुआ। महोबा में जिला पंचायत सदस्यों की कुल संख्या 14 है। इन 14 जिला पंचायत सदस्यों में भाजपा और सपा के बीच काटें की टक्कर के बीच 6 निर्दलीय जिला पंचायत सदस्यों ने बीजेपी को वोट डाला जिसके बाद बीजेपी के उम्मीदवार जयप्रकाश अनुरागी की जीत हो गई। जिसके बाद सपा प्रत्याशी ने जिला प्रशासन पर पक्षपात करने का आरोप लगाया।


बीजेपी सांसद विधायक अपने समर्थकों के साथ कलेक्ट्रेट पहुंचे

उत्तर प्रदेश के महोबा में जिला पंचायत अध्यक्ष का चुनाव कलेक्ट्रेट परिसर में सुबह करीब 11:30 बजे सबसे पहले भाजपा के सांसद विधायक अपने समर्थकों के साथ जिला पंचायत अध्यक्ष पद के बीजेपी प्रत्य़ाशी जयप्रकाश अनुरागी के समर्थन में कलेक्ट्रेट जा पहुंचे । जिला पंचायत अध्यक्ष चुनाव में एक-एक प्रत्याशियों ने मतदान किया। वहीं बीजेपी के नेताओं का कहना है कि प्रधानमंत्री मोदी औऱ सीएम योगी की नीतियों से प्रभावित होकर बिना किसी पक्षपात के सभी जिला पंचायत सदस्यों ने शातिंपूर्ण तरीके से मतदान करके चुनाव को सफल बनाया।



सपा ने जिला पंचायत अध्यक्ष चुनाव में प्रशासन पर पक्षपात का आरोप लगाया

जबकि समाजवादी पार्टी के उम्मीदवार ने जिला पंचायत अध्यक्ष चुनाव में पक्षपात करने का आरोप लगाकर बीजेपी प्रत्याशी को जीत दिलाने का आरोप लगाया है। सपा प्रत्याशी ने कहा कि मतदान के दौरान सदस्यों और राइटर को वोट डालने का अधिकार नहीं मिला जिला पंचायत अध्यक्ष के चुनाव में बीजेपी के पदाधिकारियों ने मतदान किया। उन्होंने आगे कहा कि कई निर्दलीय जिला पंचायत सदस्य सपा के समर्थन में आए थे लेकिन जिला प्रशासन ने फर्जी मुकदमों का हवाला देकर उन्हें कैप्चर कर लिया और जिला पंचायत सदस्यों को बीजेपी के पक्ष में वोट करने के लिए मजबूर किया।



Divyanshu Rao

Divyanshu Rao

Next Story