×

Zila Panchayat Election UP 2021: जिला पंचायत अध्यक्ष पर फिर रालोद का कब्जा, भाजपा नहीं ढहा पाई अभेध दुर्ग

आखिरकार बागपत में जिला पंचायत अध्यक्ष की कुर्सी पर रालोद का दबदबा फिर कायम रहा।

Paras Jain

Paras JainReport Paras JainRaghvendra Prasad MishraPublished By Raghvendra Prasad Mishra

Published on 3 July 2021 1:51 PM GMT

Mamta Kishore
X

जिला पंचायत अध्यक्ष के पद पर रालोद उम्मीदवार ममता किशोर विजयी घोषित (फोटो साभार-सोशल मीडिया)

  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

Zila Panchayat Election UP 2021: आखिरकार बागपत में जिला पंचायत अध्यक्ष की कुर्सी पर रालोद का दबदबा फिर कायम रहा। यहां रालोद-सपा की संयुक्त प्रत्याशी ममता किशोर चुनाव जीत गई और भाजपा की बबली देवी को हार का मुँह देखना पड़ा। रालोद की ममता किशोर को 12 वोट मिले, जबकि भाजपा की बबली को सात वोट हासिल हुए। जबकि एक वोट निरस्त हो गया है।

बागपत कलक्ट्रेट में जिला निर्वाचन अधिकारी राजकमल यादव ने जीत की घोषणा की। उधर रालोद और सपा समर्थकों ने सुबह से ही बागपत कलक्ट्रेट के बाहर डेरा डाल रखा था। जीत की घोषणा होने के बाद जयंत चौधरी जिंदाबाद और रालोद जिंदाबाद के नारे गूंजने लगे। इसके चलते पुलिस को कई बार कड़ी मशक्कत कर स्थिति संभालनी पड़ी। हालांकि सुबह से ही इस बात की चर्चा चल रही थी की रालोद के सबसे ज्यादा 8 जिला पंचायत सदस्य चुनाव जीते हैं और उसके पास तीन सदस्य सपा के भी हैं तथा तीन निर्दलीय का भी समर्थन हासिल है। इसलिए उनकी जीत पक्की है।

आखिरकार जब शाम को चुनावी नतीजे आए तो रालोद की ममता किशोर ही विजयी घोषित की गईं। बता दें कि जब से बागपत जिला बना है तब से लेकर आज तक जिला पंचायत अध्यक्ष की कुर्सी पर रालोद का ही कब्जा रहा है और रालोद के इस अभेध दुर्ग को अभी तक कोई नहीं भेद पाया। वहीं रालोद के चुनाव जीतने के बाद एक बार फिर भाजपाइयों की फूल खिलाने की हसरत अधूरी रह गई। नव निर्वाचित जिला पंचायत अध्यक्ष ममता किशोर का कहना है कि ये आम कार्यकर्ता और जयंत चौधरी की जीत है। बागपत में विकास कराना ही उनकी पहली प्राथमिकता होगी।

Raghvendra Prasad Mishra

Raghvendra Prasad Mishra

Next Story