Top

Kumbh का समापनः जूना अखाड़ा प्रमुख स्वामी अवधेशानंद का एलान, हरिद्वार कुंभ खत्म

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अपील के बाद जूना अखाड़ा प्रमुख ने हरिद्वार कुंभ मेला खत्म करने का एलान किया है।

Shivani

ShivaniPublished By Shivani

Published on 17 April 2021 1:32 PM GMT

हरिद्वार कुंभ 2021
X

हरिद्वार कुंभ 2021 (Photo-Twitter)

  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

हरिद्वारः उत्तराखंड की पवित्र भूमि हरिद्वार (Haridwar) में आयोजित कुम्भ मेला का समापन कर दिया गया है। कुंभ 2021 (Kumbh 2021) को खत्म करने का एलान जूना अखाड़ा प्रमुख स्वामी अवधेशानंद ने किया। बता दें कि जूना अखाड़े का ये फैसला प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की उस अपील के बाद आया है, जिसमे उन्होंने अखाड़ों से कोरोना (Corona Virus )के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए कुंभ का समापन करने की मांग की थीं।

दरअसल, हरिद्वार में आयोजित होने वाले कुंभ मेले (Kumbh Mela 2021) में कोरोना वायरस का संक्रमण बेकाबू होता जा रहा है। हरिद्वार कुंभ (Haridwar Kumbh) में आए दिन संतों और श्रद्धालुओं के कोरोना संक्रमित होने की खबर मिल रही है। इस बीच निरंजनी अखाड़े (Niranjani Akhara) में कुछ दर्जन साधुओं ने कोविड जांच कराई तो 22 की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। एक दिन में इतनी संख्या में संतों के कोरोना संक्रमित पाए जाने से अखाड़े में हड़कंप मच गया है।

हाल ही में कोरोना वायरस की स्थिति को देखते हुए निरंजनी अखाड़े ने अपनी ओर से कुंभ मेले (Haridwar Kumbh 2021) के समापन की घोषणा कर दी थी। अब इस अखाड़े में शुक्रवार को 22 संत कोरोना से संक्रमित मिले हैं। अखाड़े के सचिव रविंद्र पुरी महाराज भी कोरोना की चपेट में आ गए हैं। इसके साथ ही अखाड़े के आचार्य महामंडलेश्वर कैलाशानंद गिरी महाराज ने खुद को आइसोलेट कर लिया है।

24 घंटे में 592 संत हुए कोरोना संक्रमित

आपको बता दें कि अखाड़ा परिषद के प्रमुख नरेंद्र गिरि महाराज पहले ही कोरोना से पॉजिटिव पाए गए हैं। इसके अलावा कई अन्य अखाड़ों में भी संत कोरोना से संक्रमित हुए हैं। वहीं, जिला स्वास्थ्य विभाग के मुताबिक, पूरे जिले में बीते 24 घंटे में 592 संत कोरोना संक्रमित मिले हैं। मेला नियंत्रण भवन में भी कुक सहित छह लोग संक्रमित पाए गए हैं।


अब कोरोना के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए शनिवार से अखाड़ों में सैम्पलिंग बढ़ाई जाएगी। इसकी जानकारी जिला स्वास्थ्य विभाग के मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ एसके झा ने दी है। इसके लिए अतिरिक्त टीमें बढ़ाई जा रही हैं।

दो महामंडलेश्वर की मौत

आपको बता दें कि बीते शुक्रवार को नरसिंह मंदिर के प्रमुख महामंडलेश्वर जगतगुरु डॉक्टर स्वामी श्याम देवाचार्य महाराज की कोरोना के चलते मध्य प्रदेश के जबलपुर में मृत्यु हो गई थी। वो कुंभ के शाही स्नान में शामिल होने के लिए हरिद्वार गए थे। इससे पहले गुरुवार को अखिल भारतीय श्री पंच निर्वाणी अखाड़े के महामंडलेश्वर कपिल देवदास की मौत हो गई थी। वह लगभग 65 वर्ष के थे और कोरोना से संक्रमित हो गए थे।


Shivani

Shivani

Next Story