×

Uttarakhand Accident Video: देखें कैसे तीर्थयात्रियों से भरी बस खाई में गिरी, लगातार निकल रहीं लाशें

Uttarakhand Bus Accident: उत्तराखंड के उत्तरकाशी जिले में मध्य प्रदेश के पन्ना जिले से 28 तीर्थयात्रियों को लेकर जा रही एक बस खाई में गिर गई।

Network
Updated on: 2022-06-06T13:17:57+05:30
X

उत्तराखंड में 28 तीर्थयात्रियों से भरी बस खाई में गिरी: Video: Newstrack

  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

Uttarakhand Bus Accident: उत्तराखंड के उत्तरकाशी जिले में मध्य प्रदेश के पन्ना जिले से तीर्थयात्रियों को लेकर जा रही एक बस खाई में गिर गई (the bus fell into the ditch)। जिसका वीडियो सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल (video viral on social media) हो रहा है। इस वीडियो को देखने से ही साफ़ पता चलता है कि यह बस हादसा कितना भयानक और दर्दनाक है। बताया जा रहा है कि इस बस दुर्घटना में 26 तीर्थयात्रियों की मौत हो गई है और घायल का इलाज लगातार जारी है।

अब तक 26 लोगों के शव बरामद

सूचना मिलने पर मौके पर पहुंची एनडीआरएफ की टीम (NDRF team) और स्थानीय प्रशासन और एसडीआरएफ की टीमें बचाव कार्य में लगी हुई हैं। यहां का दृश्य इतना भयानक है कि एक-एक करके लाशें निकल रही हैं। अब तक 26 लोगों के शव बरामद हुए हैं।

मध्य प्रदेश के पन्ना जिले से तीर्थयात्रियों को लेकर चली थी बस

बताया जा रहा है कि तीर्थयात्रियों से भरी यह बस मध्य प्रदेश के पन्ना जिले से तीर्थयात्रियों को लेकर चली थी। लेकिन बस उत्तरकाशी जिले के दमटा के पास खाई में गिर गई है। 26 लोगों के शव बरामद हुए हैं जबकि घायलों को अस्पताल भेज दिया गया है। पुलिस और एसडीआरएफ मौके पर मौजूद हैं। डीजीपी अशोक कुमार ने ये जानकारी दी है। गृह राज्य मंत्री नित्यानंद राय ने बताया कि उत्तराखंड स्थानीय प्रशासन के अनुसार 26 तीर्थयात्रियों की मौत हो गई है और कई घायल हुए हैं।

गृह मंत्री अमित शाह ने जताया दुःख

हादसे पर गृह मंत्री अमित शाह (Home Minister Amit Shah) ने संवेदना जताते हुए कहा कि उत्तराखंड में श्रद्धालुओं की बस के खाई में गिरने की सूचना अत्यंत दुःखद है। इस पर मैंने मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी जी से बात की है। स्थानीय प्रशासन व SDRF की टीमें बचाव कार्य में लगी हैं और घायलों को उपचार के लिए नजदीकी अस्पताल ले जाया जा रहा है।

Shashi kant gautam

Shashi kant gautam

Next Story