×

Agra News: कुत्तों के साथ बंदर भी लोगों के लिए बन चुके आतंक, जिला अस्पताल में रोज लगती एंटी रेबीज लगवाने के लिए भीड़

Agra News: आगरा में खूंखार कुत्तों का शिकार हुई बच्ची गुंजन की मौत हो गई है लेकिन आगरा में हालात सुधर नहीं पा रहे। आगरा में आवारा कुत्तों का आतंक बढ़ता जा रहा है।

Rahul Singh
Updated on: 27 July 2022 11:03 AM GMT
X

जिला अस्पताल में घूमते बंदर (साभार न्यूज़ नेटवर्क)

  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
Click the Play button to listen to article

Agra News: आगरा में खूंखार कुत्तों का शिकार हुई बच्ची गुंजन की मौत हो गई है लेकिन आगरा में हालात सुधर नहीं पा रहे। आगरा में आवारा कुत्तों का आतंक बढ़ता जा रहा है। बात अगर केवल जिला अस्पताल की की जाए तो हालात क्या है, यह आंकड़ों को देखकर आसानी से अंदाजा लगाया जा सकता है।

जिला अस्पताल में आज भी हर दिन 400 से 500 मरीज एंटी रेबीज का इंजेक्शन लगवाने पहुंचते हैं। यह सभी लोग कुत्तों के काटने का शिकार होते हैं। हालत यह है कि रविवार को जिला अस्पताल की छुट्टी रहती है। लेकिन एंटी रेबीज इंजेक्शन लगवाने वालों की भीड़ के चलते रविवार को भी मरीजों को यह सुविधा दी जा रही है।

जिला अस्पताल के सीएमएस बताते हैं कि हर दिन 400 से 500 मरीज एंटी रेबीज का इंजेक्शन लगवाने के लिए जिला अस्पताल पहुंचते हैं। एक भी दिन ऐसा नहीं जाता जिस दिन एंटी रेबीज का इंजेक्शन लगवाने वाले मरीज जिला अस्पताल नहीं पहुंचे हैं। क्या बच्चे, क्या बुजुर्ग, क्या जवान आवारा कुत्तों के आतंक से सब परेशान है।

अपने नाती शौर्य को एंटी रेबीज का इंजेक्शन लगवाने पहुंची चंदा देवी ने बताया कि उनका नाती शौर्य गली में खेल रहा था। तभी गली के आवारा कुत्ते ने उसे काट लिया। अर्जुन नगर के रहने वाले सुनील राठौर भी एंटी रेबीज का इंजेक्शन लगवाने के लिए जिला अस्पताल पहुंचे थे, उन्होंने बताया उनको भी कुत्ता ने काट लिया। अपनी बेटी जानवी को एंटी रेबीज का इंजेक्शन लगवाने पहुंचे अनिल कुमार ने बताया कि उनकी बेटी को भी कुत्ता काट लिया है। वह बेटी को एंटी रेबीज का इंजेक्शन लगवाने के लिए अस्पताल पहुंचे हैं ।

कुत्तों के अलावा बंदर भी लोगों के लिए आतंक बन चुके हैं, कुत्ते तो लोगों को अपना शिकार बना ही रहे हैं। बंदरों का आतंक भी शहर में कम नहीं है। शहर हो या देहात कुत्ते और बंदर जगह-जगह लोगों को काट रहे हैं। इरादत नगर में स्कूल जा रही बच्ची पर बंदर ने हमला कर दिया। बंदर ने बच्ची को काट खाया और लहूलुहान कर दिया। शहर के भी अलावा देहात के कई गांवों में बंदरों का बड़ा आतंक है।

Prashant Dixit

Prashant Dixit

Next Story