×

UP ITMS क्या है जो कर रहा तीसरी आंख से ट्रैफिक की निगरानी, CM Yogi भी हैं इसके मुरीद

इसमें ट्रैफिक नियम तोड़ने पर चालान ऑटोमेटिक नंबर प्लेट रीडर (एएनपीआर) के जरिए सीसीटीवी कैमरे से किया जाता है। 40 किमी प्रति घंटे से ज्यादा रफ्तार होने पर चालान कट जाता है।

Ramkrishna Vajpei
Published on 11 May 2022 12:09 PM GMT
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

आपको बता दें कि लगभग एक साल पहले 5 जून 2021 को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सभी 17 नगर निगमों, गौतमबुद्धनगर नोएडा और 57 जिला मुख्यालयों के शहरों को आईटीएमएस सिस्टम से जोड़ने के निर्देश दिये थे।

आपको बता दें कि आईटीएमएस के तहत शहर में जगह-जगह एचडी (हाई डेफिनेशन) कैमरे लगाये जाते हैं। जिसकी रेंज 300 मीटर तक होती है। यह किसी भी एंगल से तस्वीरें कैद कर सकता है। आईटीएमएस शहर में यातायात व्यवस्था को सुदृढ़ करने व यातायात नियमों का पालन कराने में सहायक होता है।

इसमें ट्रैफिक नियम तोड़ने पर चालान ऑटोमेटिक नंबर प्लेट रीडर (एएनपीआर) के जरिए सीसीटीवी कैमरे द्वारा किया जाता है। इतना ही नहीं 40 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से ज्यादा तेज गाड़ी चलाने पर भी चालान कट जाता है। कैमरों द्वारा वाहन की नंबर प्लेट देखकर चालक द्वारा तोड़े गए नियम को रिकॉर्ड करके उसकी फोटो दिन, तारीख व समय के साथ सीधे कंट्रोल रूम को भेजी जाती है, जहां से चालान बनकर चालक के पते पर भेजा जाता है।

आपके शहर में भी चालान इसी तरीके से काटे जा रहे हैं। तो हों ना परेशान। ट्रैफिक नियमों का पालन करें। सुरक्षित रहें।

Ramkrishna Vajpei

Ramkrishna Vajpei

Next Story