×

दीवारों की मदद से सीखी अंग्रेजी, लालटेन की रोशनी में पढ़कर बनीं IAS, जानें सुरभि गौतम की कहानी

IAS Surabhi Gautam Story: सुरभि गौतम ने शुरुआती शिक्षा अपने गांव में हिंदी माध्यम से पढ़ते हुए पास की तथा कई बार गांव में बिजली ना होने के चलते सुरभि को लालटेन की रोशनी में पढ़ाई जारी रखनी पड़ती।

Rajat Verma
Published on 17 April 2022 8:17 AM GMT
IAS Surabhi Gautam Story
X

सुरभि गौतम (photo: social media ) 

  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

IAS Surabhi Gautam Story: मध्य प्रदेश की रहने वाली सुरभि गौतम (Surabhi Gautam) का हिंदी मीडियम की प्रारंभिक शिक्षा और अंग्रेज़ी मीडियम (English Medium) की इंजीनियरिंग पढ़ाई से लेकर यूपीएससी तक का सफर बेहद ही रोचक और संघर्षपूर्ण रहा। आपको बता दें कि सुरभि ने कभी भी चुनौतियों और कठिनाईयों के सामने घुटने नहीं टेके बल्कि डटकर उनका सामना करते हुए जीत हासिल की। वर्तमान में सुरभि गौतम अपने संघर्षों और मेहनत की बदौलत बतौर आईएएस अपनी सेवाएं दे रही हैं।

सुरभि गौतम ने शुरुआती शिक्षा अपने गांव में हिंदी माध्यम से पढ़ते हुए पास की तथा कई बार गांव में बिजली ना होने के चलते सुरभि को लालटेन की रोशनी में पढ़ाई जारी रखनी पड़ती। इसके बाद सुरभि ने मेहनतकश संघर्ष की बदौलत 10वीं और 12वीं की परीक्षा में प्रदेश की मेरिट सूची में भी नाम हासिल किया। इसी के साथ सुरभि ने इंजीनियरिंग में दाखिला लिया, जहां उन्हें हिंदी माध्यम बैकग्राउंड होने के चलते कई अंग्रेज़ी समझने में बेहद कठिनाई हुई। हालांकि सुरभि ने इस कठिनाई को एक चुनौती की तरह स्वीकारा और खुद से ही अंग्रेज़ी सीखते हुए कॉलेज की इंजीनियरिंग परीक्षा में भी टॉप किया।

सुरभि गौतम (फोटो: सोशल मीडिया )

दीवारों की मदद से सीखी अंग्रेजी

सुरभि गौतम ने अंग्रेजी सीखने के मकसद से दीवारों पर प्रतिदिन करीब 10 नए शब्द लिखने शुरू किए और वह हर वक़्त तहतक उन शब्दों को देखती और समझती जबतक वह उसे याद नहीं हो जाते तथा साथ ही सुरभि अपने आप से अंग्रेजी में बात करती, सवाल भी खुद करती और जवाब भी खुद देती। सुरभि की इस लगन के चलते उसने ज़ल्द ही अंग्रेजी पर भी जीत हासिल की।

सुरभि गौतम (photo: social media )

2016 में बनी IAS, UPSC में हासिल की ऑल इंडिया 50वीं रैंक

सुरभि गौतम ने काफी समय से आईएएस बनने का ख्वाब देख लिया था, जिसके चलते वह अनेकों बड़ी परीक्षाएं टॉप करने के बाद भी अपने आईएएस बनने के लक्ष्य को साधती रही और अंततः सुरभि ने 2016 की यूपीएससी परीक्षा में ऑल इंडिया 50वीं रैंक हासिल कर अपने आईएएस अधिकारी बनने के सपने को भी हासिल कर लिया।

आपको बता दें कि आईएएस बनने से पूर्व सुरभि ने आईईएस, एसएससी, इसरो, सेल, एफसीआई सहित कई परीक्षाएं ना सिर्फ पहले प्रयास में पास की बल्कि टॉपर भी रहीं। सुरभि ने साल 2013 में आयोजित आईईएस परीक्षा में ऑल इंडिया पहली रैंक हासिल की थी।

सुरभि गौतम का कभी भी हार ना मानने वाला स्वभाव और निरंतर मेहनत जारी करने की ललक ने ही आज सुरभि को देश के सर्वोच्च प्रशासनिक पद पर विराजमान किया है।

Monika

Monika

Next Story