Top

Women Success Story: इस महिला की संघर्ष की कहानी, शिकंजी और आइसक्रीम बेचकर बनीं सब इंस्पेक्टर

'ऐनी' ने घर-घर जाकर इंश्यो्रेंस बेचा, फिर शिकंजी बेची, तो त्योहारों पर मेलों में आइसक्रीम भी बेची। सपनों के रास्ते में किसी भी अड़चन को नहीं आने दिया। ऐनी ने एसपी का पदभार संभाला।

Network

NetworkNewstrack NetworkShashi kant gautamBy Shashi kant gautam

Published on 28 Jun 2021 5:04 AM GMT

woman success story
X

ऐनी ने एसपी का पदभार संभाला: फोटो- सोशल मीडिया   

  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

Women Success Story: कहते हैं न कि 'सफलता कमियों की मोहताज नहीं होती' ये कहानी है एक ऐसी ही महिला की जिसने अपने आपको परिस्थितियों के सामने झुकने नहीं दिया। 21 साल की ऐनी का उनके पति ने साथ छोड़ दिया जबकि उनका एक आठ महीने का बच्चा भी था। मां बाप ने उन्हें घर पर रखने से मना कर दिया था। बस यहीं से शुरू होती है एनी के संघर्ष की जिंदगी, इस संघर्ष में उनका साथ देने वाली केवल उनकी दादी थीं।

केरल (Kerala) के तिरुवनंतपुरम के कांजीरामकुलम की रहने वाली ऐनी (Aanie) एक दिन एसपी बन जाएंगी, ये उनको पूरा यकीन था क्योंकि उन्होंने इसके लिए काफी मन से संघर्ष किया था, वो ये जानती थीं कि वो ये कर सकती हैं। उन्होंने पहले आजिविका चलाने के लिए हर तरह की जॉब भी कीं।

घर-घर जाकर इंश्यो्रेंस बेचा, शिकंजी बेची, त्योहारों पर मेलों में आइसक्रीम भी बेची

ऐनी (Aanie) ने घर-घर जाकर इंश्यो्रेंस बेचा, फिर शिकंजी बेची तो त्योहारों पर मेलों में आइसक्रीम भी बेची। लेकिन उन्हों ने अपने सपनों के रास्ते में किसी भी अड़चन को नहीं आने दिया। अब वह 31 साल की हैं और वरखला पुलिस स्टेशन की सब इंस्पेक्टर के तौर पर नई जिंदगी शुरू करने जा रही हैं। ऐनी ने शनिवार को एसपी का पदभार संभाला।

फ़िल्मी हस्तियां शुभकानाएं दे रही हैं: फोटो- सोशल मीडिया

फ़िल्मी हस्तियां शुभकानाएं दे रही हैं

इसके बाद से ही उन्हें फ़िल्मी हस्तियां शुभकानाएं दे रही हैं। सोशल मीडिया तक में उन्हें इसके बधाई संदेश प्राप्ते हो रहे हैं। अपने ग्रेजुएशन के पहले साल में ही ऐनी ने माता-पिता के खिलाफ जाकर अपनी पसंद के लड़के से शादी कर ली थी। अपने पति से अलग होने के बाद दादी के साथ रहने के दौरान उन्होंने अपनी शिक्षा को लेकर कभी समझौता नहीं किया। उन्होंने पहले ग्रेजुएशन पूरा किया और बाद में डिस्टेंस लर्निंग से पोस्ट ग्रेजुएशन किया।

आइसक्रीम और शिकंजी बेची

उन्होंने अपने जीवन में कई तरह के काम भी किए हैं। ऐनी ने घर-घर जाकर इंश्योरेंस बेचा। इसमें उन्हें सफलता नहीं मिली तो उन्होंने त्योहारों के दौरान मेले में आइसक्रीम और शिकंजी बेची। उन्होंने वरकला में टूरिस्टि स्पॉट में भी शिकंजी और आइसक्रीम बेची। किसी ने उनको इसमें अधिक लाभ कमाने की जानकारी दी थी।

इस लिए रखा बॉयकट बाल रखना: फोटो- सोशल मीडिया

-इस लिए रखा बॉयकट बाल रखना

एक बच्चे की मां होने के कारण ऐनी को बड़े शहरों में अपने और बच्चे के लिए किराये का मकान खोजने में भी दिक्कत हुई थी। उन्होंने किसी भी तरह की परेशानी से बचने के लिए बॉयकट बाल रखना तय किया था। वह नहीं चाहती थीं कि उनकी ओर लोग ध्याान दें।

इसके बाद उनके रिश्तेदारों ने उन्हें पुलिस अफसर की जॉब के लिए अप्लाई करने को प्रेरित किया। इसके बाद उन्होंने सब इंस्पेक्टर की परीक्षा दी। रिश्तेदार ने परीक्षा की तैयारी के लिए ऐनी को कुछ रुपये भी उधार दिए थे। 2016 में ऐनी पुलिस अफसर बनी थीं। तीन साल बाद उन्हों ने सब इंस्पेक्टर की परीक्षा पास की। डेढ़ साल की ट्रेनिंग के बाद शनिवार को उन्होंने प्रोबेशनरी पुलिस सब इंस्पेक्टर का पदभार संभाला।

'हम तब तक नहीं हारते, जब तक हम यह तय नहीं कर लेते कि हम हार गए।'

ऐनी का कहना है कि उनके पिता का सपना था कि वह आईपीएस अफसर बनें। इसलिए उन्होंने काफी मेहनत करके पढ़ाई की। उनका कहना है, 'हम तब तक नहीं हारते, जब तक हम यह तय नहीं कर लेते कि हम हार गए।' ऐनी ने अपनी सफलता को लेकर फेसबुक पर भी लिखा है।


Shashi kant gautam

Shashi kant gautam

Next Story