Top

टेंशन टाइट : स्मार्ट टीवी, आईफोन्स, एंड्रायड कुछ भी नहीं सेफ, CIA की नजर में है सब

Rishi

RishiBy Rishi

Published on 11 April 2017 5:33 PM GMT

टेंशन टाइट : स्मार्ट टीवी, आईफोन्स, एंड्रायड कुछ भी नहीं सेफ, CIA की नजर में है सब
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

लंदन : स्मार्ट टीवी है आपके पास, और आपको इस बात का घमंड भी है। तो आप बेवकूफ साबित होते हैं। क्योंकि जब घर में पड़ा हो स्मार्ट टीवी तो बच्चा सिर्फ आपको है रोना। क्योंकि अमेरिकी सेंट्रल इंटेलिजेंस एजेंसी (सीआईए) आपकी जासूसी कर सकता है।

ये भी देखें :अब गायत्री प्रजापति मामले की जाँच करेंगे सीओ हजरतगंज

विकिलीक्स ने दावा किया है, कि सीआईए ने ऐसे नए मैलवेयर और हैकिंग टूल विकसित कर लिए हैं, जो दुनिया के किसी भी स्मार्ट टीवी को हैक कर सकता है।

सीआईए की मोबाइल डिवाइसेस शाखा (एमडीबी) ने टीवी, आईफोन और एंड्रॉइड-आधारित सभी उपकरणों हैक करने और उसपर संपूर्ण नियत्रंण करने की तकनीक विकसित कर ली है।

सीआईए के डिजिटल इनोवेशन के निदेशालय की सहयोगी सेंटर फॉर साइबर इंटेलिजेंस ने ये सॉफ्टवेयर तैयार किया है। इसे नाम दिया गया विपिंग एंजेल। ये एक मैलवेयर है, जो स्मार्ट टीवी पर नियंत्रण कर उसे माइक्रोफोन्स में बदल देता है।

‘विपिंग एंजेल’ बाहरी तौर पर स्मार्ट टीवी बंद कर देता है। लेकिन असल में टीवी बंद नहीं होता बल्कि कमरे में चल रही सभी हलचल को रिकार्ड करता रहता है और दूर कहीं बैठा व्यक्ति कमरे में हो रही हलचल देखता रहता है। इसके साथ ही आपके स्मार्ट फोन को भी खुली किताब बना देता है उसके लिए आपके लॉक कोई मायने नहीं रखते। वो सबकुछ कभी भी कहीं भी देख सकता है, और उसे रिकार्ड करता रहता है। सीआईए इसके बाद माइक्रोसॉफ्ट विंडोज के लिए मैलवेयर तैयार कर रहा है। ताकि दुनिया का कोई भी उपकरण उसकी नजर से न बच सके।

Rishi

Rishi

आशीष शर्मा ऋषि वेब और न्यूज चैनल के मंझे हुए पत्रकार हैं। आशीष को 13 साल का अनुभव है। ऋषि ने टोटल टीवी से अपनी पत्रकारीय पारी की शुरुआत की। इसके बाद वे साधना टीवी, टीवी 100 जैसे टीवी संस्थानों में रहे। इसके बाद वे न्यूज़ पोर्टल पर्दाफाश, द न्यूज़ में स्टेट हेड के पद पर कार्यरत थे। निर्मल बाबा, राधे मां और गोपाल कांडा पर की गई इनकी स्टोरीज ने काफी चर्चा बटोरी। यूपी में बसपा सरकार के दौरान हुए पैकफेड, ओटी घोटाला को ब्रेक कर चुके हैं। अफ़्रीकी खूनी हीरों से जुडी बड़ी खबर भी आम आदमी के सामने लाए हैं। यूपी की जेलों में चलने वाले माफिया गिरोहों पर की गयी उनकी ख़बर को काफी सराहा गया। कापी एडिटिंग और रिपोर्टिंग में दक्ष ऋषि अपनी विशेष शैली के लिए जाने जाते हैं।

Next Story