×

Serial Killer: इस खूंखार सीरियल किलर की दीवानी लड़कियां, लगे हैं हत्या और रेप जैसे गंभीर अपराध

Serial Killer: बिकिनी किलर के नाम से कुख्यात सीरियल किलर चार्ल्स शोभराज पिछले माह यानी दिसंबर 2022 में करीब 19 साल बाद नेपाल की जेल से रिहा हुआ था। चार्ल्स पर लड़कियां फिदा रहती थीं।

Krishna Chaudhary
Published on: 22 Jan 2023 1:01 PM GMT
Girls used to kill this serial killer guilty of serious crimes like murder and rape
X

 हत्या और रेप जैसे गंभीर अपराध के दोषी इस सीरियल किलर पर जान लुटाती थी लड़कियां: Photo- Social Media

  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

Serial Killer: बिकिनी किलर के नाम से कुख्यात सीरियल किलर चार्ल्स शोभराज पिछले माह यानी दिसंबर 2022 में करीब 19 साल बाद नेपाल की जेल से रिहा हुआ था। खूंखार होने के बाद चार्ल्स पर लड़कियां फिदा रहती थीं। कुछ ऐसी ही कहानी एक अमेरिकी सीरियल किलर की है, जिसने 13 लोगों को मौत के घाट उतारने के अलावा 11 महिलाओं के साथ रेप किया। लेकिन फिर भी लड़कियां उस पर जान लुटाती थीं। ये कोई मामूली लड़कियां नहीं थी। मॉडल्स से लेकर अभिनेत्रियां तक इसके इश्क में पागल थीं।

नाइट स्टॉकर के नाम से कुख्यात यह सीरियल किलर खुद को शैतान का दूत कहता था। वह शैतानों की पूजा करता था। उसका कहना था कि शैतान ने उसे इसी काम के लिए दुनिया में भेजा है। दो लड़कियों से सगाई और एक से शादी करने वाले इस कुख्यात सीरियल किलर को जेल में भी सैंकड़ों की संख्या में लव-लेटर आया करते थे। तो आइए जानते हैं इस रोमांटिक सीरियल किलर के बारे में –

कौन है सीरियल किलर 'नाइट स्टॉकर'

नाइट स्टॉकर के नाम से कुख्यात इस सीरियल किलर ने एक समय अमेरकी पुलिस की नींद हराम कर रखी थी। ये बड़ी आसानी से अपराध को अंजाम देकर गायब हो जाया करता था। मीडिया रिपोर्टस के मुताबिक, इसका असली नाम रिचर्ड रेमिरेज था। रिचर्ड का जन्म 29 फरवरी 1960 को टेक्सास शहर के एल पासो में हुआ था। बताया जाता है कि इसका बचपन काफी खराब हालातों के बीच गुजरा था।

इसने शुरू से ही अपने माता-पिता को झगड़ते हुए देखा, जिसके कारण उस पर गलत प्रभाव पड़ा। जब उसकी उम्र ज्यादा नहीं हुई थी, तभी अमेरिकी सेना में शामिल इसके कजिन भाई ने एक ऐसे जघन्य वारदात को अंजाम दिया था, जिसने उस दौरान पूरे देश को हिला दिया था। वियतनाम युद्ध से लौटा रिचर्ड रेमिरेज का भाई अक्सर अपनी पत्नी से लड़ता था। एक दिन उसने अपनी पत्नी को झगड़े के बाद प्लेन से धक्का देकर मार डाला। दरअसल, वियतनाम युद्ध के दौरान अमेरिकी सैनिक वियतनामी लोगों को इसी तरह मौत के घाट उतारते थे। बताया जाता है कि इन घटनाओं ने उसके दिमाग पर गहरा असर डाला था, जिसके कारण वह क्रूर और निर्दयी बन चुका था।

शिकार को तड़पा-तड़पा कर मार डालता था

सीरियल किलर रिचर्ड रेमिरेज इतना कठोर और निर्दयी बन चुका था कि वह अपने शिकार की जान तड़पा-तड़पा कर लेता था। उनसे खुद इसका जिक्र मीडिया को दिए एक साक्षात्कार में किया था। उसने कहा था कि मारते समय लोगों की चीख उसे सुकून पहुंचाती थी और उसे इंसानी खून की महक काफी पसंद थी। हत्या के बाद वह शिकार के घर में शांति हासिल करने के लिए कुछ देर टहला करता था। बकौल रेमिरेज वह लोगों को हथौड़े और चाकू से मारता था। रिचर्ड का दावा था कि उसे शैतान ने दुनिया से भ्रष्ट लोगों को मिटाने के लिए भेजा है।

शैतान की पूजा करने वाला सीरियल किलर

रिचर्ड रेमिरेज ने एक शैतानी सोसाइटी सैटेनिक ज्वाइन कर रखी थी। इस सोसाइटी से जुड़े लोग शैतान की पूजा करते थे और खूब नशा किया करते थे। रेमिरेज अपने शिकार को मारने के बाद उसके शरीर पर शैतान का एक निशान छोड़ देता था। वह अक्सर इन घटनाओं को रात में अंजाम दिया करता था। खूंखार रिचर्ड रेमिरेज के कारनामों ने जल्द ही उसे मीडिया में कुख्यात बना दिया। तब अखबारों ने उसे एक नया नाम 'नाइट स्टॉकर' दिया था।

ऐसे चढ़ा पुलिस के हत्थे

'नाइट स्टॉकर' के नाम से कुख्यात हो चुका रिचर्ड रेमिरेज के खौफ ने अमेरिकी जनता में दहशत पैदा कर दी थी। लगातार हत्या और रेप जैसी जघन्य वारदातों के होने से पुलिस पर उसे पकड़ने का काफी दवाब थी। लेकिन पुलिस चाहकर भी उसके पास नहीं पहुंच पा रही थी। पुलिस को केवल उसके शिकार के शरीर पर शैतान का एक निशान मिलता था। 1985 में उसने एक और महिला को अपना शिकार बनाया। रेप करने के बाद इसने महिला को खूब प्रताड़ित किया। हालांकि, महिला की जान बच गई। बाद में पुलिस ने इसी महिला की मदद से रिचर्ड का स्कैच तैयार करवाया और उसे धर दबोचा।

जेल में आते थे लव लेटर

जेल में बंद इस साइको सीरियल किलर के पीछे लड़कियां इस कदर पागल थीं कि इसके नाम लव लेटर भेजा करती थीं। ये लेटर अमीर घरानों की लड़कियां, मॉडल्स और अभिनेत्रियां भेजा करती थीं। एक जानी-मानी पत्रिका की एडिटर डोरिए लिओए अक्सर सीरियल किलर से मिलने जेल जाया करती थीं। रिचर्स को कई लव लेटर भेजने वाली इस महिला से जब पूछा गया तो उसने बताया कि वो अच्छा इंसान और बहुत फनी है।

बीमारी से हुई थी मौत

कुख्यात साइको किलर रिचर्ड रेमिरेज को जब पुलिस ने पकड़ा था, तब तक उसने गुनाह की एक पूरी किताब लिख डाली थी। उसके नाम 13 हत्याएं, 11 रेप और 14 डकैती की घटनाएं दर्ज हो चुकी थीं। इन सभी मामलों में अदालत ने उसे दोषी भी पाया। कहते हैं कि उसे 19 बार उसके कुकर्मों के लिए फांसी की सजा सुनाई गई थी, लेकिन किस्मत का धनी रिचर्ड फांसी के फंदे तक कभी नहीं पहुंच पाया। 7 जून 2013 को जेल में उसकी लिवर फेलियर के कारण मौत हो गई।

Shashi kant gautam

Shashi kant gautam

Next Story