Top

इंडोनेशिया प्‍लेन क्रैश: डिप्रेशन में गोताखोर की भी मौत, वजह कर देगी हैरान

sudhanshu

sudhanshuBy sudhanshu

Published on 3 Nov 2018 10:07 AM GMT

इंडोनेशिया प्‍लेन क्रैश: डिप्रेशन में गोताखोर की भी मौत, वजह कर देगी हैरान
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

इंडो‍नेशिया: चंद दिनों पहले हुए इंडोनेशिया प्‍लेन क्रैश ने सबको झकझोर कर रख दिया था। दुर्घटनाग्रस्‍त जहाज से मृतकों के शव निकालने के काम के लिए सरकार ने गोताखोरों की मदद ली थी। इस काम में लगे एक गोताखोर की मौत हो गई है। जानकारी के मुताबिक इस गोताखोर की मौत डिप्रेशन के कारण हुई है। प्रशासनिक अधिकारी जांच में जुटे हुए हैं।

ये भी देखें: पूर्व जस्टिस चेलमेश्वर के बयान पर गृहमंत्री का जवाब, ‘राममंदिर बने तो सबको खुशी होगी’

लॉयन एयर का विमान हुआ था क्रैश

दुर्घटनाग्रस्त इंडोनेशियन जहाज से मृतकों के शरीर निकालने के काम में लगे एक गोताखोर की मौत हो गई। एक अधिकारी ने बताया कि ये बचावकर्मी वॉलिंटियर के रूप में काम कर रहा था। ये इंडोनेशियाई गोताखोर समुद्र में दुर्घटनाग्रस्त हुए लॉयन एयर विमान से शवों को निकालने वाली टीम का हिस्सा था। 48 वर्षीय गोताखोर का नाम सिच्रुल एंटो था।

ये भी देखें: Newstrack.com ने खोली सरकारी दावों की पोल, डीएम के इंस्‍पेक्‍शन में भी हुआ खेल

कई राहत कार्यों में दिया था अहम योगदान

इंडोनेशियाई नौसेना की खोज और बचाव विभाग के कमांडर इस्वार्टो ने बताया कि वह खोज और बचाव एजेंसी के साथ एक वॉलंटियर थे। उन्होंने कहा कि, ऐसा माना जा रहा है कि उनकी मौत शायद डिप्रेशन के कारण हुई हो।

एंटो इससे पहले सितंबर में पलू इलाके में आये भूकंप और सुनामी में राहत और बचावकार्यो में लगे थे और लगभग चार साल पहले एयर एशिया विमान दुर्घटना में भी राहत टीम का हिस्सा थे।

गौरतलब है कि, सोमवार को लॉयन एयर विमान ने सुमात्रा द्वीप पर जकार्ता से पांगकल पिनंग शहर की उड़ान भरी थी। टेकऑफ के कुछ ही मिनटों के बाद जहाज पानी में गिर गया। इस हादसे में सभी 189 यात्रियों की मौत हो गई थी।

गुरुवार को अधिकारियों को फ्लाइट डेटा रिकॉर्डर तो मिल गया था, लेकिन अभी भी ब्लैक बॉक्स, कॉकपिट वॉयस रिकॉर्डर की तलाश जारी है।

sudhanshu

sudhanshu

Next Story