Top

पाकिस्तान के कार्यवाहक PM के बारे में वो सब कुछ जो आप जानना चाहते हैं

पाकिस्तान के कार्यवाहक पीएम बनाए गए शाहिद खानन अब्बासी नवाज शरीफ के मंत्रिमंडल में पेट्रोलियम मंत्री थे। इस पद पर वो 2013 से कार्यवाहक पीएम बनने तक रहे।

tiwarishalini

tiwarishaliniBy tiwarishalini

Published on 30 July 2017 8:21 AM GMT

पाकिस्तान के कार्यवाहक PM के बारे में वो सब कुछ जो आप जानना चाहते हैं
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

इस्लामाबाद: पाकिस्तान के कार्यवाहक पीएम बनाए गए शाहिद खानन अब्बासी नवाज शरीफ के मंत्रिमंडल में पेट्रोलियम मंत्री थे। इस पद पर वो 2013 से कार्यवाहक पीएम बनने तक रहे। पाकिस्तान मुस्लिम लीग से सांसद बने अब्बासी ,गिलानी के मंत्रिमंडल में वाणिज्य मंत्री थे।

पाकिस्तान की नेशनल एसेंबली में वो 1988 से सदस्य हैं। वो रावलपिंडी का प्रतिनिधित्व करते हैं। साथ ही ब्लू एयर लाइंस के मालिक हैं । वो 1997 से 1999 तक पाकिस्तान इंटरनेशनल एयर लाइंस के चेयरमैन रहे।

- अब्बासी ने केलिर्फोनिया विश्वविधालय से इलेक्ट्रिक इंजीनियर की डिग्री ली।

- उसके बाद उन्होंने 1985 में जार्ज वाशिंगटन विश्वविधालय से इलेक्ट्रिक इंजीनियर की मास्टर डिग्री ली और पेशेवर इंजीनियर का सार्टिफिकेट लिया ।

- पेशेवर इंजीनियर की डिग्री लेने के बाद उन्होंने अमरीका और संयुक्त अरब अमीरात में कई परियोजनओं में काम किया ।

अब्बासी ने 2003 में एयर ब्लू की स्थापना की और उसके चेयरमैन बने । वो इस कंपनी के मालिक जरूर रहे लेकिन उसका शेयर होल्डर होने से इंकार किया । उनका दावा था कि वो दो साल तक कंपनी के कार्यालय भी नहीं गए।

- अब्बासी ने रावलपिंडी से नेशनल एसेंबली के लिए 1988 में पहला चुनाव लड़ा और जीते।

- उनके पिता खानन अब्बासी भी राजनीतिज्ञ थे और नेशनल एसेंबली के सदस्य थे। वो अबबासी भी पाकिस्तान में मंत्री रहे ।

-अब्बासी ने 1990 में हुए जेनरल एलेक्शन में फिर से जीत हासिल की और संसदीय सचिव बनाए गए।

- आर्मी चीफ परवेज मुशर्रफ के कार्यकाल में उन्हें जेल में डाल दिया गया था और उनकी नेशनल एसेंबली की सदस्यता खत्म कर दी गई थी। वो दो साल तक जेल में रहे।

- वो 2002 के चुनाव में पाकिस्तान पीपुल्स पार्टी के उम्मीदवार से हार गए ।

उन्होंने पाकिस्तान की नेशनल एसेंबली का चुनाव छह बार जीता ।

tiwarishalini

tiwarishalini

Excellent communication and writing skills on various topics. Presently working as Sub-editor at newstrack.com. Ability to work in team and as well as individual.

Next Story