Top

तुर्की के विदेश मंत्री ने कहा-अमेरिका के साथ संबंध टूटने का खतरा

Rishi

RishiBy Rishi

Published on 12 Feb 2018 2:21 PM GMT

तुर्की के विदेश मंत्री ने कहा-अमेरिका के साथ संबंध टूटने का खतरा
X
तुर्की के विदेश मंत्री ने कहा-अमेरिका के साथ संबंध टूटने का खतरा
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

इस्तांबुल : तुर्की के विदेश मंत्री मेवलुत काउसोगलू ने सोमवार को कहा कि तुर्की व अमेरिका के बीच संबंध टूटने के करीब है। दोनों देशों के बीच संबंधों में तनाव सीरियाई डेमोक्रेटिक बलों को अमेरिकी समर्थन की वजह से आया है। द्विपक्षीय संबंधों के 'नाजुक स्थिति' में होने की घोषणा करते हुए काउसोगलू ने कहा, "हम या तो संबंधों को ठीक करेंगे या पूरी तरह से टूट जाएंगे।"

अफ्रीकी नेताओं के साथ बैठक के बाद इस्तांबुल में उन्होंने प्रेस के साथ बातचीत में कहा कि अमेरिका ने तुर्की के साथ अपने संबंधों को संभालने में कई गलतियां की हैं। इसमें सीरिया में कुर्द मिलीशिया को समर्थन देना शामिल है। कुर्द मिलीशिया को पीपुल्स प्रोटेक्शन यूनिट (वाईपीजी) के नाम से जानते हैं।

हुर्रियत डेली न्यूज ने काउसोगलू के हवाले से कहा, "हम अमेरिका से ठोस कदम चाहते हैं। खो रहे विश्वास को बहाल करने की जरूरत है। विश्वास के खोने का कारण अमेरिका है।"

उन्होंने कहा, "अमेरिका वाईपीजी/पीकेके (कुर्दिस्तान वर्कर्स पार्टी) आतंकवादी समूहों के साथ काम जारी रखने का बहाना कर आईएसआईएल (इस्लामिक स्टेट ऑफ इराक एंड लेवंत) सदस्यों को सीरिया में हाथ नहीं लगा रहा है।"

तुर्की के सैनिकों ने 20 जनवरी से सीरिया के उत्तरपश्चिम में वाईपीजी के अधिकार वाले अफरीन पर हवाई और जमीनी हमले शुरू किए हैं। तुर्की कुर्द विद्रोहियों के साथ आतंकवादियों जैसा व्यवहार करता है।

Rishi

Rishi

आशीष शर्मा ऋषि वेब और न्यूज चैनल के मंझे हुए पत्रकार हैं। आशीष को 13 साल का अनुभव है। ऋषि ने टोटल टीवी से अपनी पत्रकारीय पारी की शुरुआत की। इसके बाद वे साधना टीवी, टीवी 100 जैसे टीवी संस्थानों में रहे। इसके बाद वे न्यूज़ पोर्टल पर्दाफाश, द न्यूज़ में स्टेट हेड के पद पर कार्यरत थे। निर्मल बाबा, राधे मां और गोपाल कांडा पर की गई इनकी स्टोरीज ने काफी चर्चा बटोरी। यूपी में बसपा सरकार के दौरान हुए पैकफेड, ओटी घोटाला को ब्रेक कर चुके हैं। अफ़्रीकी खूनी हीरों से जुडी बड़ी खबर भी आम आदमी के सामने लाए हैं। यूपी की जेलों में चलने वाले माफिया गिरोहों पर की गयी उनकी ख़बर को काफी सराहा गया। कापी एडिटिंग और रिपोर्टिंग में दक्ष ऋषि अपनी विशेष शैली के लिए जाने जाते हैं।

Next Story