4 साल के परिश्रम का परिणाम,यहां समुद्र में मिला है तीसरी व चौथी शताब्दी के मंदिर का अवशेष

धर्म को लेकर प्राचीन समय से लोग संवेदनशील रहे है। धर्म के नाम पर घार्मिक स्थल बनाने की परंपरा भी पुरानी है। इसके साक्ष्य भी मिलते रहते है। कुछ ऐसा ही सामने आया है इजिप्ट से। इस शहर के हेराक्लिओन में समुद्र के अंदर लगभग 1200 साल पुराना मंदिर मिला है।

जयपुर: धर्म को लेकर प्राचीन समय से लोग संवेदनशील रहे है। धर्म के नाम पर धार्मिक स्थल बनाने की परंपरा भी पुरानी है। इसके साक्ष्य भी मिलते रहते है। कुछ ऐसा ही सामने आया है इजिप्ट से। इस शहर के हेराक्लिओन में समुद्र के अंदर लगभग 1200 साल पुराना मंदिर मिला है। इस मंदिर की खोज से कई रहस्य सामने सामने आए है। मंदिर के साथ तांबे के सिक्के और गहने भी है।

बिस्तर पर 54 करोड़ महिलाओं को पति से है खतरा, इस सर्वे को देख हिल जाएंगे

यूरोप और इजिप्ट के पुरातत्वविदों ने इस मंदिर की खोज की है। यहां कई पिलर्स मिले हैं। जो मुख्य मंदिर का हिस्सा है। इस मंदिर की खोज स्कैनिंग डिवाइस के जरिए की गई। समुद्र की गहराई में जो मंदिर का अवशेष है वो ग्रीक मंदिर है। इस मंदिर की खोज के दौरान मूर्तियां और मिट्टी के बर्तन भी मिले हैं जिन्हें तीसरी या चौथी शताब्दी का कहा जा रहा है।

27जुलाई : शनिवार के दिन किस पर बरसेगी शनिदेव की कृपा, जानिए पंचांग व राशिफल

पुरातत्वविदों ने जो सिक्के मिले है उन सिक्कों को राजा क्लाडियस टॉलमी के शासनकाल का बताया है। समुद्र में कई इमारतों के अवशेष भी मिलें है। यह काफी दूर तक फैला हुआ बताया गया है। पुरातत्वविदों का कहना है कि हेराक्लिओन मंदिरों का शहर था। लेकिन सुनामी आने की वजह से पूरा शहर तबाह हो गया। पुरातत्वविद डॉ फ्रेंक गोडियो के मुताबिक करीब 4 साल की मेहनत के बाद 1200 साल पुराने मंदिर का पता लगाया गया है।